DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिस्सेदारी मांगी तो सहोदर भाई की गोली मार कर दी हत्या

पैतृक संपत्ति में हिस्सेदारी मांगने पर महज दो दिन पहले हत्या कर देने का एलान करने वाला युवक अपने चाचा के सहयोग से सुनसान इलाके में ले जाकर सहोदर भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। पेशे से टेम्पो चालक रहे अदालत कुमार उर्फ सुदामा के शव को हिलसा थाने की पुलिस ने मंगलवार की सुबह तिमुहानी के निकट से बरामद किया।

प्रभारी थानाध्यक्ष अतुल कुमार मिश्र ने बताया कि मृतक अदालत कुमार मूलत: करायपरशुराय थाना क्षेत्र के मेढ़वां गांव निवासी कामेश्वर प्रसाद का दूसरा पुत्र था। मृतक पैर से विकलांग होने के बावजूद टेम्पो चलाकर अपना भरण-पोषण कर रहा था। जबकि मृतक का एक अन्य भाई मुकेश कुमार उर्फ घूंटी यादव आंध्रप्रदेश की एक राइस मिल में काम करता था। कुछ दिन पहले अपनी बहन की शादी में मुकेश घर आया था। दो दिन पहले अदालत और मुकेश के बीच पैतृक संपत्ति में हिस्सेदारी को लेकर विवाद हुआ था। इसी दौरान मुकेश अपने सहोदर भाई अदालत को हत्या कर देने का चैलेंज कर दिया था।

सोमवार की देर शाम में अदालत अपने पिता को फोन कर चाचा के साथ होने की बात कहते हुए जल्द ही घर आने की बात कही थी। देर रात तक घर नहीं आने पर पिता कामेश्वर प्रसाद ने अदालत के मोबाइल पर फोन किया। लेकिन फोन का स्विच ऑफ रहने के कारण बात नहीं हो पाई।

प्रभारी थानाध्यक्ष श्री मिश्र ने बताया कि अदालत की गोली मारकर हत्या की गयी है। मृतक के  शरीर पर दो गोलियों का जख्म पाया गया। घटनास्थल पर से गोली का एक खोखा भी बरामद हुआ। उन्होंने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल भेज दिया गया। घटना के संबंध में मृतक के पिता कामेश्वर प्रसाद द्वारा दिये गये बयान के आधार पर मृतक के सहोदर भाई मुकेश कुमार उर्फ घूंटी यादव तथा चाचा शंकर यादव के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हिस्सेदारी मांगी तो सहोदर भाई की गोली मार कर दी हत्या