DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जदयू और कांग्रेस एक, राजद पर बढ़ा दबाव

जदयू और कांग्रेस एक, राजद पर बढ़ा दबाव

राज्य में भाजपा विरोधी गोलबंदी की तस्वीर तेजी से बदल रही है। जनता परिवार का विलय टलने के बाद अब जदयू- राजद गठबंधन पर भी ग्रहण लगता नजर आ रहा है। इस बीच जदयू और कांग्रेस के बीच नजदीकी बढ़ी है। इससे राजद पर दबाव बढ़ता नजर आ रहा है। सोमवार को पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जहां जनता परिवार के विलय पर पूछे गए सवाल को टाल दिया, वहीं उन्होंने दो टूक कहा कि कांग्रेस से तामलेल को लेकर कोई भ्रम नहीं है। जबकि दिल्ली में कांगे्रस अध्यक्ष सोनिया गांधी  ने बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की आवश्यकता जताई।

उन्होंने इसमें राजद को भी साथ आने का सुझाव दिया। वह प्रद्रेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी से बिहार के राजनीतिक हालात और चुनाव की रणनीति पर चर्चा कर रही थीं। दो दिन पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बिहार में कांग्रेस के नीतीश कुमार के संग चुनावी अखाड़े में उतरने के संकेत दिए थे। इससे राजद पर दबाव बढ़ गया है।

उधर, सोमवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के सुर बदले। उन्होंने कहा कि अगर साथ चलना है, तो भरोसा करना होगा। लगे हाथ यह भी कहा कि पटे तो भी ठीक और नहीं पटे तो भी ठीक। इससे पहले दोपहर में उन्होंने पार्टी नेताओं द्वारा गठबंधन के संदर्भ में दिए बयानों पर नाराजगी जताई। राजद नेताओं को नसीहत दी कि वह जो कुछ कहना है पार्टी के अंदर कहें। सार्वजनिक बयान देने से परहेज करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जदयू और कांग्रेस एक, राजद पर बढ़ा दबाव