DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोहतास के 27 फर्जी शिक्षक नौकरी से बर्खास्त

जिले के 27 शिक्षकों को फर्जीप्रमाण पत्र पर नौकरी पाने के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया। संबंधित नियोजन इकाइयों ने उनकी बर्खास्तगी पर मुहर लगा दी। वर्ष 2006 से एकमुश्त फर्जी डिग्रीधारियों के विरुद्ध की गई अब तक की यह सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले अन्य नियोजन इकाइयों में इक्के-दुक्के फर्जी डिग्रीधारी शिक्षक नौकरी से हटाए जाते रहे हैं।

शिक्षकों की बर्खास्तगी की पुष्टि करते हुए जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) राजदेव राम ने बताया कि नियोजन इकाइयों ने शिक्षकों की बर्खास्तगी की रिपोर्ट दी है। उन्होंने कहा कि विभाग के निर्देश पर फर्जी डिग्री के सत्यापन का काम तेजी से किया जा रहा है। आने वाले कुछ दिनों में फर्जी डिग्री पर नौकरी करने वाले बर्खास्त शिक्षकों की संख्या बढ़ सकती है।

बर्खास्त होने वाले शिक्षकों में दिनारा प्रखंड के मध्य विद्यालयों के उपेन्द्र कुमार, भलुनीधाम, सुरेश प्रसाद, धरकंधा, पिन्टू प्रसाद गुप्ता व कपिलदेव सिंह, तेनुअज, विनोद कुमार सिंह, मसहुती, बच्चन कुमार व अनूप कुमार चक्रवर्ती, भानस, मनोज कुमार सुमन, खलसापुर, ओम प्रकाश गुप्ता, बराढ़ीकला, हरेराम प्रसाद, भानपुर, राजनार्थ ंसह, दरिगांवा, रूबी कुमारी, कोरी, सरिता कुमारी, सेमरा, ममता कुमारी, बराढ़ीकला, पन्ना कुमारी, सरना, बबन प्रसाद सिंह, मेदनीपुर, पुष्पा कुमारी, राजपुर व अन्नपूर्णा कुमारी, दिनारा, सासाराम प्रखंड के जावेद अख्तर अंसारी व रिजवाना बेगम, उर्दू विद्यालय धनारी तथा देवंती देवी, प्राथमिक विद्यालय तेन्दुआ, तिलौथू प्रखंड के प्रेमचंद श्रीवास्तव, मध्य विद्यालय हरनाचित्ति की किरण श्रीवास्तव, मध्य विद्यालय हुरका के दिलीप कुमार सिंह, मध्य विद्यालय भिसरा की रिंटू देवी व सुशीला देवी, प्राथमिक विद्यालय चोरकप तथा दावथ प्रखंड के मध्य विद्यालय बोराढ़ी की शिक्षिका निशा कुमारी शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रोहतास के 27 फर्जी शिक्षक नौकरी से बर्खास्त