DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

भए प्रकट कृपाला दीनदयाला ...जय श्रीराम...जय हनुमान...रामनवमी को लेकर मंगलवार की रात ही शहर राममय हो गया। पूरा शहर हनूमानी ध्वजों व पताकाओं से पट गया है।  इलेक्ट्रानिक तोरणद्वार रामभक्तों का स्वागत कर रहे हैं। एलईडी लाइटिंग में रामायण के प्रसंगों की झांकियां सहज ही श्रद्धालुओं को विभोर कर रही हैं। स्टेशन रोड से पूरा डाकबंगला क्षेत्र अयोध्या नगरी में तब्दील नजर आया। 

इधर मंगलवार की  आधी रात बाद दो बजे महावीर मंदिर पटना जंक्शन का पट दर्शन के लिए खोल दिया गया। मंदिर का पट खुलते ही ओम रां रामाय नम: का मंत्र जाप व हनुमान चालीसा का पाठ करते रामभक्त श्रद्धालु दर्शन और पूजन को उमड़ पड़े। श्रद्धालु पूजन व दर्शन के लिए रात 8 बजे से ही कतारबद्ध होने लगे थे। रात दस बजे तक श्रद्धालुओं की कतार जीपीओ गोलंबर तक पहुंच गयी थी। सुबह तक यह कतार जीपीओ गोलंबर से आगे हार्डिंग पार्क तक बढ़ने लगी। मंदिर मंगलवार रात 2 बजे से बुधवार की रात 12 बजे तक मंदिर दर्शन के लिए खुला रहेगा। 

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर
भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

आधी रात के बाद अयोध्या से पहुंचे पंडितों के दल ने भगवान की आरती की। भव्य श्रृंगार किया गया। इसके बाद मंदिर में रामभक्तों का प्रवेश शुरू हो गया। श्रद्धालुओं ने भगवान को लड्डू, माला चढ़ाकर अपने साथ पूरे परिवार के कल्याण की कामना की। शहर के आसपास के क्षेत्रों से आए श्रद्धालु रात 8 बजे के आसपास ही पूजन की सामग्री लेकर मंदिर के समीप लाइन में लगने लगे। लाइन में लगे भक्त पट खुलने की प्रतीक्षा में राम नाम का जाप के साथ हनूमान चालीसा,सुंदरकांड का पाठ करते रहे। खड़े-खड़े थक जाते हो बैठ जा रहे थे। इनकी प्रतीक्षा की बोझिलता कम करने के लिए कई जगह एलईडी टीवी स्क्रीन भी लगाए गए थे जिस पर धार्मिक कार्यक्रमों का प्रसारण हो रहा था। 

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर
भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

रामनवमी को लेकर मंदिर प्रशासन ने इस बार नई व्यवस्था की है। ऑर ब्लॉक के पास हार्डिंग पार्क में ही नैवेद्यम लड्डू, फूल-माला आदि की व्यवस्था की है। यहां नैवेद्यम के तीन स्टॉल बनाए गए हैं। साथ ही स्टेशन गोलंबर, इंकम टैक्स गोलंबर ,पटेल पथ के पास भी तीन स्टॉल बनाए गए हैं। पार्क से  दर्शन के लिए लाइन लगनी है। हालांकि अपेक्षाकृत भीड़ कम होने से श्रद्धालु फूल,लड्डू लेकर सीधे मंदिर के समीप पहुंच गए कतार में। मंदिर न्यास के प्रमुख आचार्य किशोर कुणाल के अनुसार इस बार 15 हजार से 20 हजार किलो नैवेद्यम लड्डू का इंतजाम किया गया है। वहीं स्टेशन रोड में  लड्डू के निजी दुकान लगाने की मनाही कर दी गयी है। पर मंगलवार की रात कई निजी लड्डू की दुकानें लग गयी थीं। साथ ही हनुमानी ध्वजा भी बिक्री के लिए पटे दिखे।  प्रशासन की ओर से मंदिर में सीसी टीवी कैमरे लगाए गए हैं जिससे बाहर लाइन में  खड़े श्रद्धालु भी पूजन का सीधा प्रसारण देख सकें। 

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर
भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

हार्डिंग पार्क के भीतर से  कतारें निकलती रहीं

महावीर मंदिर न्यास के प्रमुख आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि भीषण गर्मी को देखते हुए हार्डिंग पार्क में श्रद्धालु्ओं की सहूलियत के लिए पंडाल बनाया गया है। अंदर ही अंदर श्रद्धालु लाइन में लगकर  पार्क के पूर्वी द्वार जीपीओं के पास निकलेंगे। भीतर और बाहर मंदिर तक रोड पर शेड बनाए जा रहे हैं। ताकि धूप से बचाव हो सके। दर्शनार्थियों के लिए मंदिर प्रशासन की ओर से शर्बत आदि की व्यवस्था की गयी है।  

ध्वजारोहण दोपहर 12.30  बजे से 

मंदिर प्रांगण में बुधवार की दोपहर 12.30 बजे ध्वजारोहण किया जाएगा। पुराने ध्वज को हटाकर नया ध्वजा लगाया जाएगा। भगवान राम के जन्म का समय ध्वजारोहण  किया जाता है। 

आज निकलेंगी  27 भव्य शोभायात्राएं

रामनवमी को लेकर  डाकबंगला और फ्रेजर रोड पर रामायण युग बुधवार की शाम को जीवंत होगा। रामायण के कालखंडों के प्रसंगों को स्पेशल लाइटिंग के माध्यम से दर्शाया गया है। जय श्री राम के जयघोष,बैंड-बाजे और आकर्षक झांकियों के साथ शहर में 27 स्थलों से रामनवमी की शोभायात्रा निकलेगी। इन झांकियों में महिलाएं तलवार लेकर चलती दिखेंगी। रामनवमी पर निकलने वाली शोभायात्राओं का लाइव प्रसारण वेबसाइट पर किया जाएगा।  

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर
भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर

राज्यपाल,मुख्यमंत्री संग साध्वी ऋतंभरा शरीक होंगी महोत्सव में 

श्री रामनवमी शोभायात्रा अभिनंदन समिति के संयोजक बांकीपुर के विधायक नितिन नवीन और आयोजक मंडल सदस्य दीघा के विधायक संजीव चौरसिया के अनुसार रामनवमी समारोह में राज्यपाल रामनाथ कोविंद,मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ साध्वी ऋतंभरा,प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ,केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह व  रामकृपाल यादव राज्यसभा सदस्य आरके सिन्हा, डा.सीपी ठाकुर,सांसद गोपाल नारायण सिंह, पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी,प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार मौजूद रहेंगे।  

रामायण की झांकियों के संग निकलेगी शोभायात्रा

 रामनवमी पर शाम 6 बजे से रात 10 बजे तक सभी शोभायात्राएं डाकबंगला चौराहा पर पहुंचेंगी। बाकरगंज बजाजा, चितकोहरा साईं मंदिर, मीठापुर,दीघा-कुर्जी-मैनपुरा, ऑर ब्लॉक,पुनाईचक,शेखपुरा ब्रह्मस्थान,गोलघर-लोदीपुर-मंदिरी,साईं मंदिर लोदीपुर, कंकड़बाग साईं मंदिर,राजीवनगर-इंद्रपुरी-केशरीनगर,सिपारा,भिखना पहाड़ी,मछुआ टोली, ट्रांसपोर्टनगर,गौरिया टोली,शिवपुरी, न्यू पुनाईचक हनुमानगर, नेहरूनगर, सालिमपुर आहरा, रामनगरी, उत्तरी मंदिरी देवी स्थान से शोभायात्रा निकलेगी। 

अमृत व केशव योग में मनेगी रामनवमी 

ज्योतिषाचार्य प्रियेन्दु प्रियदर्शी ने शास्त्रों और पंचांगों के हवाले से बताया कि चैत नवमी पर इस बार कई खास संयोग बन रहे हैं। पुष्य नक्षत्र होने से केशव योग तो छह वर्षों के बाद नवमी युक्त दशमी तिथि का संयोग होने से अमृत के साथ जय योग भी बनेगा। मिथिला पंचाग में बुधवार की दोपहर 3.35 बजे तक और बनारसी पंचांग में शाम 4.57 बजे तक नवमी तिथि है। इसके बाद दशमी तिथि शुरू हो जाएगी। आचार्यों के अनुसार केशव योग में पूजन से सौ अश्वमेघ यज्ञ न एक हजार वाजस्नेयी यज्ञ के समान फल की प्राप्ति होगी। सामाजिक व भौगोलिक उन्नति होगी। अमृत योग ,जय योग में गुलाबी अबीर,अबरख,हल्दी चूर्ण से देवी पूजन करने से नि:संतान को संतान और कुंवारी कन्याओं को मनचाहे वर की प्राप्ति होगी। 

मंत्र जाप से अश्वमेघ के समान फल

आचार्य प्रियेन्दु प्रियदर्शी के अनुसार रामनवमी पर  मंत्र ...ओम नमो भगवते सर्वमनोकामनाए सिद्धम कुरु कुरु फट् ....का एक माला जाप करने से सौ अश्वमेघ यज्ञ के समान फल की प्राप्ति होगी। 

भए प्रकट कृपाला: अयोध्या नगरी में तब्दील हुआ पटना महावीर मंदिर
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ram navami celebrated in patna