DA Image
हिंदी न्यूज़ › गुमटियों में तीन हजार में बन रहे ड्राइविंग लाइसेंस
भागलपुर

गुमटियों में तीन हजार में बन रहे ड्राइविंग लाइसेंस

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Tue, 02 Feb 2016 03:50 PM
गुमटियों में तीन हजार में बन रहे ड्राइविंग लाइसेंस

दो साल पहले जिला प्रशासन द्वारा चलाया गया 'ऑपरेशन दलाल' अब बेअसर हो चुका है। उस समय कचहरी परिसर में मौजूद दलालों व बिचौलियों की गुमटियों पर ताले लग गये थे।

वर्तमान में बचौलिये एक बार फिर से परिवहन कार्यालय के आसपास सक्रिय हो चुके हैं। बिचौलिये लोगों से दोगुना-तिगुना पैसा वसूल उन्हें बिना दौड़-भाग के लाइसेंस दिलवा देते हैं। हिन्दुस्तान की टीम कुछ दिन पहले परिवहन कार्यालय ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने पहुंची तो तीन दिनों तक कई तरह के कागजातों का हवाला देकर आज-कल किया जाता रहा। वहीं मौजूद एक आदमी ने सलाह दी, अगर जल्दी लाइसेंस बनवाना है तो गुमटी में बैठनेवाले दलालों के पास जाएं। इसके बाद कचहरी परिसर में ही एक गुमटी में बैठे दलाल के पास टीम का सदस्य पहुंचा। जिले का नहीं होने का हवाला और हेल्थ व आई चेक अप सर्टिफिकेट भी बनवा देने की बात पर बिचौलिये ने टीम के सामने तीन हजार रुपए देने की बात कहा बताया कि सारा काम हो जाएगा। उसने एक हजार एडवांस देने को कहा। इसके बाद उसने हमें एक यूनिक निशान बनी हुई पर्ची और फॉर्म के साथ फोटो और डिजिटल सिग्नेचर के लिए परिवहन कार्यालय में बने काउंटर पर भेज दिया। महज दस दिनों के भीतर ही बिचौलिये ने लर्निग लाइसेंस दिया और एक हफ्ते बाद बुलाया। हफ्ते भर बाद जब आने के बाद उसने 440 रुपए का चालान कटवाकर उसने तीन दिन के बाद ड्राइविंग टेस्ट के लिए सैंडिस कम्पाउंड पहुंचने को कहा।

परिवहन कार्यालय में चक्कर काट रहे कुछ लोगों ने नाम नहीं बताने की शर्त पर बताया कि परिवहन कार्यालय में काम बहुत ही सुस्त ढंग से किया जाता है। लाइसेंस बनाने से पहले ही अनेक तरहके कागजातों के लिए हफ्तों तक दौड़ाया जाता है।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें