DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार बोर्ड का सहायक रिश्वत लेते गिरफ्तार

बिहार बोर्ड का सहायक रिश्वत लेते गिरफ्तार

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने बुधवार को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति उच्च माध्यमिक के सहायक अनिल कुमार सिंह को 50 हजार रुपए रिश्वत लेते दबोच लिया। उन पर एक जांच रिपोर्ट की संचिका आगे बढ़ाने के लिए पैसे लेने का आरोप है।  

आरा के बिहिया स्थित बिंदेश्वरी दुबे इंटर कॉलेज (वित्त रहित),कटेया के प्राचार्य हरेन्द्र सिंह ने मंगलवार को निगरानी ब्यूरो में अनिल कुमार द्वारा रिश्वत मांगे जाने की शिकायत की थी। निगरानी ब्यूरो ने मामले के सत्यापन के लिए प्राचार्य के साथ ब्यूरो के एक इंस्पेक्टर को परीक्षा समिति कार्यालय भेजा। प्राचार्य ने सहायक से पैसे की लेन-देन संबंधी बातचीत की और मामला एक लाख में तय हो गया। सहायक ने पैसे लेने के लिए हरेंद्र सिंह को अपने पटना स्थित आवास इंद्रपुरी बुलाया। 

बुधवार की सुबह 8 बजे डीएसपी मुन्ना प्रसाद के नेतृत्व में निगरानी टीम शिकायतकर्ता प्राचार्य के साथ सहायक के आवास इंद्रपुरी के लिए रवाना हो गई। निगरानी टीम ने प्राचार्य को पैसे देने के लिए सहायक के आवास के अंदर भेजा। प्राचार्य मकान के दूसरे तल्ले पर पहुंचे और सहायक को पैसे दिए। उन्होंने जैसे ही रुपए गिनने शुरू किए निगरानी टीम आ धमकी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। निगरानी ने आरोपित को जेल भेज दिया। 

निगरानी के समक्ष खोले राज: सहायक अनिल कुमार सिंह ने पूछताछ में कई राज उगले हैं। उसने बताया है कि बिंदेश्वरी दुबे इंटर कॉलेज के प्राचार्य हरेन्द्र सिंह के खिलाफ कुछ लोगों ने बोर्ड में शिकायत की थी। समिति ने मामले की जांच का जिम्मा भोजपुर के डीईओ को सौंपा। डीईओ ने प्राचार्य के पक्ष में रिपोर्ट सौंपी,जिस पर आपत्ति के बाद पटना विवि के शिक्षकों की एक टीम ने मामले की जांच की। इसी जांच रिपोर्ट की फाइल को बढ़ाने के लिए प्राचार्य एक माह से सहायक से अनुरोध कर रहे थे।

शिकायत मिली तो सीधे सस्पेंड होंगे कर्मी
पटना।
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के उच्च माध्यमिक प्रभाग में लंबे समय से कुंडली मार के बैठे कर्मियों का स्थानांतरण किया जाएगा। बोर्ड अध्यक्ष लालकेश्वर प्रसाद ने बताया कि दो से तीन दिनों में स्थापना में बदलाव किया जाएगा। यहां पर नए युवा कर्मियों को काम दिया जाएगा। अगर एक भी शिकायत किसी कर्मी के बारे में मिलेगी, तो सीधे सस्पेंड किया जाएगा। अनिल सिंह स्थापना विभाग में थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: bihar board s assistant arrested taking bribe