DA Image
8 मार्च, 2021|2:15|IST

अगली स्टोरी

1325 करोड़ की लागत से भागलपुर बनेगा स्मार्ट सिटी

फास्ट ट्रैक सिटी में शामिल भागलपुर शहर के लिए स्मार्ट सिटी का संशोधित प्लान मंगलवार तक बनकर तैयार हो जाएगा। पहले के मुकाबले इस डीपीआर में कई बदलाव किए गए हैं जिसमें सासे महत्वपूर्ण है भागलपुर क्षेत्र के ऐतिहासिक धरोहरों को संरक्षित और उत्क्रमित करने का प्रस्ताव।

शहर के तमाम ऐतिहासिक स्थलों को चिह्नित कर उसके विकास की योजना दी गई है। डीपीआरानाने वाली एजेंसी इक्योरस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्लानिंग एक्सपर्ट रोहिताताते हैं कि 15 दिसांर को भेजे गए प्रस्ताव में स्मार्ट सिटी के लिए 1200 करोड़ खर्च होने का आकलन किया गया था लेकिन संशोधित प्रस्ताव में बजट 1325 करोड़ का होगा। इस बार शहर के अधिक से अधिक लोगों के विचार शामिल किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि प्लानिंग के स्तर पर कई नई चीजें जोड़ी गई हैं जिसमें स्मार्ट सालिड वेस्ट मैनेजमेंट, लाजपत पार्क, सैंडिस कंपाउंड, चिल्ड्रेन पार्क सहित कुछ खाली जगहों पर रिक्रिएशन प्लान भी है। आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर को इस डीपीआर में बढ़ावा दिया गया है। स्लमास्तियों में मोबाईल स्कूल की सुविधा है। शहर की तंग यातायात व्यवस्था के मद्देनजर इस बार पूरे शहर के लिए प्रावधान किए गए हैं।

पूरे शहर की ट्रैफिक कमांड एंड कंट्रोल सिस्टम से जुड़ा होगा जो इलेक्ट्रॉनिक ट्रैफिक लाइट से संचालित होगा। स्मार्ट पार्किंग की सुविधा होगी जिसके तहत लोग मोबाईल एप्प के जरिये यह जान सकेंगे कि कहां कितनी पार्किंग खाली है। कुछ सड़कों को मोटर वाहन रहित रखा जाएगा जिसे या तो साइकिलिंग जोन या फिर पेडिस्ट्रियन जोन के नाम से जाना जाएगा।