DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   गाना सुनने में ट्रेन से कटा युवक, बचाने में महिला भी मरी

बिहारगाना सुनने में ट्रेन से कटा युवक, बचाने में महिला भी मरी

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Mon, 11 Apr 2016 07:42 PM
गाना सुनने में ट्रेन से कटा युवक, बचाने में महिला भी मरी

कान में हेड फोन लगा गाना सुनने में एक बार फिर हादसा हुआ और पल भर में ही दो लोगों को जान गंवानी पड़ी। गाना सुन रहा युवक ट्रेन की आवाज नहीं सुन सका और उसे बचाने में एक अन्य महिला भी ट्रेन की चपेट में आ गई। दोनों की मौत घटना स्थल पर हो गई। यह घटना छपरा-सोनपुर रेलखंड के बड़ा गोपाल स्टेशन व डुमरी जुअरा हाल्ट के बीच स्थित कोठियां गांव के समीप अप ट्रैक पर डीएमयू की चपेट में आने से हुई।

मृतकों में 25 वर्षीय युवक व 26 वर्षीया महिला शामिल हैं। मृत महिला अवतारनगर थाना क्षेत्र के कोठियां निवासी शोभनाथ राय की पुत्री व गड़खा थाना क्षेत्र के रामपुर खाकी बाबा के टोला निवासी हरेराम राय की पत्नी बिजान्ती देवी है। वहीं समाचार लिखे जाने तक मृत युवक की पहचान नहीं हो सकी है।

जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह करीब आठ बजे बिजान्ती अपने मायके स्थित कोठियां रेलवे ट्रैक के बगल में खड़ी थी और युवक अपने कान में हेड फोन लगा डुमरी जुअरा हाल्ट की ओर अप ट्रैक पर पैदल ही जा रहा था कि डीएमयू ट्रेन अचानक उसी पटरी पर आ गयी। बिजान्ती उक्त युवक को बचाने के लिए चिल्लाती हुई उसी ट्रैक पर दौड़ पड़ी। बिजान्ती की आवाज युवक नहीं सुन सका और दोनों डीएमयू की चपेट में आ गये।

छह माह से मायके में ही रह रही थी महिला
बिजान्ती की शादी गड़खा थाना क्षेत्र के रामपुर खाकी मठिया के टोला निवासी उमा राय के बेटे हरेराम राय से हुई थी। हरेराम कोलकाता में ड्राइवरी करता है। महज आठ दिन पहले हरेराम अपनी पत्नी व बच्चों से मिल कोलकाता गया था। बिजान्ती को दो बेटे व दो बेटिया हैं। बड़ा बेटा नीतीश आठ वर्ष का तो छोटा बेटा रवि किशन महज छह माह का है।

वहीं बड़ी बेटी खुशबु छह वर्ष की व छोटी  बेटी अंशु तीन वर्ष की है। खुशबू, नीतीश व अंशु तो कुछ समझ पा रहे हैं लेकिन नादान रवि किशन मां की मौत से अनभिज्ञ है। वहीं घटना की सूचना पर आस पास के गांवों व रिश्तेदार बिजान्ती के घर पहुंच उनके परिजनों को सांत्वना दे रहे थे।

संबंधित खबरें