DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में मानसून से पहले हीट वेब का खतरा

बिहार में मानसून से पहले हीट वेब का खतरा

बिहार में मानसून से पूर्व हीट वेब (गर्म हवाएं, लू) का खतरा है। पांच-छह जून से दक्षिण और दक्षिण मध्य बिहार में सूर्य की तपिश और तीखी हो सकती हैं। इस क्षेत्र में अधिकतम तापमान जो अभी सामान्य से थोड़ा अधिक चल रहा है तीन-चार दिनों बाद सामान्य से चार-पांच डिग्री अधिक पर पहुंचने की आशंका है। हीट वेब का यह दौर 11-12 जून तक चल सकता है। दक्षिणी पूर्वी और दक्षिणी पश्चिमी बिहार में 11-12 जून को प्री मानसून बारिश के आसार भी हैं। गौरतलब है कि इस बार राज्य में गर्मी देरी से पड़नी शुरू हुई। मई में बीच-बीच में कुछ दिन ऐसे आएं जब राजधानी पटना और गया के साथ ही आसपास के जिलों का अधिकतम तापमान सामान्य से चार-पांच डिग्री अधिक तक गया। इधर कुछ दिनों से पटना का तापमान सामान्य और उससे थोड़ा अधिक पर चल रहा है। गया का तापमान अब भी सामान्य से चार डिग्री अधिक है। जिसकी वजह से दक्षिण बिहार में लू चल रही है। 

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक आरके गिरि का कहना है कि केरल में मानसून चार जून को प्रवेश कर रहा है। इस लिहाज से बिहार में मानसून तय समय से पांच दिन विलंब से 18 जून तक दस्तक देगा। इससे पूर्व राज्य  के कुछ हिस्सों में 12 जून को प्री मानसून बारिश होगी।

हीट स्ट्रोक (लू) की पहचान: सिर में दर्द, उल्टी, डायरिया, कमजोरी, पेशाब का काम आना, भूख में कमी, मांसपेशियों में सिकुड़न, त्वचा का गर्म, रूखा और लाल हो जाना लू लगने के सामान्य लक्षण हैं। लू की गंभीर स्थिति में तेज बुखार, ऐंठन होना, अल्जाइमर्स (चेतना का लुप्त होना) यहां तक कि कोमा में जाने का खतरा भी रहता है।

तीखी धूप में शरीर को ढककर ही निकलें: स्वास्थ्य सेवा में अपर निदेशक सह संयुक्त सचिव फिजिशियन डॉं. अजय कुमार के मुताबिक बाहरी तापमान सामान्य से अधिक होने पर लू लगने का खतरा रहता है। बचाव के लिए जरूरी है कि घर से निकलने पर खुले अंगों को ढंककर ही रहें। 
धूप में काम के दौरान पानी से हाथ पैर और मुंह धोते रहें: मजदूर वर्ग या भ्रमणशील पेशे से जुड़े लोग जिनके लिए धूप में भागदौड़ और काम करना मजबूरी है, वे कुछ अंतराल पर पेड़ के नीचे या अन्य छायादार स्थल पर चले जाएं। बीच-बीच में हाथ-पैर, मुंह यहां तक कि सिर भी पानी से धोते रहें। गीले कपड़े को अपने चेहरे, गर्दन और मुंह पर रखें।

बारिश से तापमान नीचे गिरा
सोमवार को आई आंधी-बारिश के बाद मंगलवार को राज्य के अधिकांश हिस्सों में तापमान नीचे गिरा। पटना और गया का तापमान जो सामान्य से अधिक चल रहा था, वह सामान्य के स्तर पर आ गया। भागलपुर में इसके विपरीत अधिकतम तापमान में तीन डिग्री की बढ़ोतरी देखी गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Heat web threats before monsoon in Bihar