DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक्सपायरी दवा दे दी और पेट में मर गया बच्चा

एक्सपायरी दवा दे दी और पेट में मर गया बच्चा

पैसे के लालच में निजी नर्सिंग होम ने एक्सपायरी दवा देकर दो जिंदगियों के साथ खिलवाड़ किया। इस दौरान मां के पेट में पल रहे बच्चे की मौत हो गयी। घटना आलमगंज थाने के गौरीशंकर मंदिर के पास जीवन ज्योति नर्सिंग होम में बीते रविवार यानी सात जून को हुई। बच्चे की मौत का खुलासा शुक्रवार को हुआ जब व्योमकेस पांडेय की पत्नी रानी देवी के परिजनों ने अस्पताल की दवाईयों पर गौर किया।
 
दवा का रैपर देखते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गयी। रानी के परिवारवालों की मानें तो जो दवा गर्भवती को दी गयी वो कई दिन पहले ही एक्सपायर कर चुकी थी। अस्पताल प्रबंधन की इस घिनौनी हरकत का भांडा फूटते ही परिवारवालों ने जमकर हंगामा किया। बवाल बढ़ता देख सिटी डीएसपी मौके पर पहुंच गए और सबको शांत कराया।

सबकुछ सामान्य था लेकिन...: गौरीशंकर मंदिर के समीप के रहने वाले पीडित व्योमकेस पांडेय ने बताया कि उनकी पत्नी बिलकुल सामान्य हालत में जीवन ज्योति नर्सिंग होम में भर्ती हुई थी। अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट भी ठीक था। लेकिन नर्सिंग होम में एक्सापायरी दवा दी गयी। 22 वर्षीय रानी शनिवार को भर्ती हुई थी जबकि रविवार को उसके बच्चे की मौत हो गयी। फिर आनन-फानन में ऑपरेशन कर मृत बच्चे को निकाला गया। हंगामे के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरु की। सवाल यह है कि आखिर अस्पताल में एक्सपायरी दवा कहां से आयी?

अस्पताल प्रबंधन नहीं आया सामने: बच्चे की मौत की खबर का खुलासा और हंगामा होने के बाद अस्पताल प्रबंधन का कोई भी व्यक्ति सामने नहीं आया है। ‘हिन्दुस्तान’ की टीम ने मौके पर पहुंचकर अस्पताल प्रबंधन का पक्ष जानने की कोशिश की लेकिन कोई नहीं मिला।

सिटी डीएसपी ने बताया कि शुक्रवार की देर रात तक अस्पताल के किसी भी सदस्य ने उनके सामने भी अपना पक्ष नहीं रखा। पटना सिटी के डीएसपी राजेश कुमार ने कहा कि यह गंभीर मामला है। प्रथम दृष्टया हुई तफ्तीश में एक्सपायरी दवा के मिलने और उसी कारण बच्चे की मौत होने की बात सामने आयी है। परिजनों के बयान पर अस्पताल की डॉं अदिती और इस मामले में शामिल अन्य दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा रही है। दोषी बक्शे नहीं जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Expiry gave medicine and baby died in the womb