DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्या कर 10 फीट अंदर जमीन में गाड़ा

हत्या कर 10 फीट अंदर जमीन में गाड़ा

जिसकी आशंका थी आखिरकार वही हुआ। सोमवार की शाम सिमरीबख्तियारपुर के सैनी टोला से अपहृत सिमरी नगरपंचायत के वार्ड पार्षद पुत्र कारी यादव की अंतत: अपराधियों ने हत्या कर दी। 30 वर्षीय कारी यादव की लाश शुक्रवार की शाम सलखुआ थाना क्षेत्र के उटेसरा गांव स्थित विमल यादव के ईंट भठा परिसर में एक गड्ढे से मिली। घर वालों को पहले से ही आशंका थी कि कहीं उसकी हत्या न कर दी गयी हो। पुलिस 5 दिन बाद कारी यादव की लाश ही बरामद कर सकी।

चिमनी परिसर में लाश मिलने की खबर के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। पुलिस का कहना है कि पुलिसिया तंत्र से मिली गुप्त सूचना पर जब चिमनी स्थल पहुंचा तो एक गड्ढे में अपहृत की लाश मिल गयी। सिमरी अनुमंडल के एसडीपीओ उपेन्द्र कुमार के नेतृत्व में विमल यादव की चिमनी पर पहुंची तीन थानों की पुलिस ने पहले चिमनी का पहले चप्पा-चप्पा छान मारा। फिर बताए संभावित स्थान पर जेसीबी से खुदाई की तो 10 फीट जमीन के नीचे लाश मिल गयी। मिली लाश की पहचान 5 दिन पूर्व अपहरण किये गए सैनी टोला निवासी सिमरी नगर पंचायत वार्ड पार्षद कलावती देवी कारी यादव के रूप में पहचान की गयी। कारी यादव का 9 जून की शाम घर के पास स्थित नगरपंचायत के सिमरी बख्तियारपुर-सलखुआ मार्ग में बैरियर के पास से की गयी थी। बाईक अमरदीप बढ़ाई चला रहा था। पीछे मुकेश यादव बैठा था। बीच में कारी यादव उर्फ राजू को बैठाकर जबरन सलखुआ तरफ ले गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अपहरणकत्त्रा के मोटरसाईकिल के पीछे भी दो मोटरसाईकिल थी। कहा जाता है कि सैनी टोला के मुकेश यादव और अमरदीप बढ़ाई ने बुलाया और मोटरसाईकिल पर जबरन बैठा ले गया। 9 जून की देर शाम ही कारी यादव को मुकेश यादव और अमरदीप बढ़ाई के साथ सलखुआ बाजार में शराब की दुकान पर देखा गया। एसडीपीओ की पूछताछ में भी इसकी पुष्टि हुई थी। अपहरण के मामले में मृतक के भाई उत्तमलाल यादव के बयान पर मुकेश यादव और अमरदीप बढ़ाई के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया गया है।

हत्या का कारण कहीं टैक्स बैरियर तो नहीं
सिमरी बख्तियारपुर।
करीब तीन माह पहले नगर पंचायत के अधिकारीयों द्वारा नगर पंचायत क्षेत्र अंतगर्त सीमावर्ती क्षेत्र में टैक्स वसूली के लिए लगाया गया बैरियर ही अपहरण हत्या का कारण बन गया। पंकज भगत को नगर पंचायत क्षेत्र में बैरियर लगाने का टेडर मिला, मृतक कारी यादव के भाई उत्म यादव की मां का क्षेत्र सनीटोला पड़ता है इसलिये इस क्षेत्र का बेरियर टैक्स लेने के लिये पंकज भगत ने उत्तम यादव को दे  दिया। उस बैरियर की वसूली दोनो भाईयों के द्वारा किया जाता था। जहां उत्म यादव का छोटा भाई कारी यादव भी बैठा करता था। इसी दौरान  कारी यादव बैरियर पर बैठने लगा था। हालाकिं मृतक के बड़े भाई उत्म यादव एवं उसके परिजनों का कहना है कि मेरे भाई कारी यादव को बड़े ही राजनैतिक साजिश के तहत मारा गया है।

जेसीबी से गड्डा खोद कर लाश को छुपाया गया था: जिस चिमनी परिसर में लाश मिली है उससे मात्र दो सौ मीटर की दुरी पर जेवीसी से गड्डा खोद कर लाश को गाड़ दिया गया है,इस हत्याकांड में चिमनी मालिक विमल यादव की संलिप्ता पर पुलिस जांच कर रही है। वही जेवीसी के ड्राईवर जेवीसी लेकर फरार है। जेसीवी खगरिया के रधुनाथपुर निवासी का बताया जाता है। सिमरी डीएसपी उपेन्द्र प्रसाद ने बताया कि पुलिस अपहृरण से लेकर हत्या तक के हर पहलु पर जांच कर रही है सच्चाई से पर्दा उठा दिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dead buried in the ground within 10 feet