DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गरीब और किसान विरोधी है मोदी और नीतीश की सरकार: दीपंकर

भाकपा-माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि मोदी और नीतीश की सरकार गरीब और किसान विरोधी है। भूमि अधिग्रहण बिल से कॉरपोरेट घरानों को लाभ मिलेगा। किसानों को काफी नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार सिर्फ घोषणाएं कर रही है। गरीबों के विकास के लिए कुछ भी नहीं हो रहा है। अब तक मजदूरों की दशा और दिशा में बदलाव नहीं आया है। समाज में पूरे बदलाव की जरूरत है।

दीपंकर सोमवार को नगर भवन में आयोजित जिलास्तरीय कैडर कन्वेंशन में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी के नियमों का पालन करने की जरूरत है। एनडीए और महागठबंधन के खिलाफ नया मोर्चा तैयार करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि बटाईदारी करने वाले मजदूरों और किसानों को कोई फायदा नहीं हो रहा है। किसानों के उपज का लाभ बिचौलियों और पूंजीपतियों को मिल रहा है। सरकार की उदासीनता के कारण किसानों को अब तक बेचे गए धान का पैसा नहीं मिला है।

उन्होंने यह भी कहा कि गरीबों और मजदूरों के घरों में बिजली नहीं पहुंची है। सरकार गरीबों के विकास के लिए घोषणा करती है। लेकिन काम नहीं करती। गरीबों का खाता खुलवाया गया। लेकिन रुपए नहीं डाले गए। लालू और नीतीश पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि पहले दोनों के बीच काफी दूरी बनी हुई थी। लेकिन सत्ता के लिए दोनों नजदीक आ गए हैं। यह सूबे के राजनीति के लिए उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव में सूबे की जनता को पूरी तरह एकजुट होकर एनडीए और महागठबंधन को ध्वस्त करने की जरूरत है। दीपंकर ने यह भी कहा कि पार्टी में महिलाओं की भागीदारी बढ़नी चाहिए।

उन्होंने संगठन को मजबूत करने पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि सूबे में अपराध की घटनाएं बढ़ रही है। विकास योजनाओं में लूट-खसोट जारी है। इस मौके पर कन्वेंशन की अध्यक्षता जितेन्द्र यादव, उपेन्द्र पासवान, ज्ञानपति राम, मधेश प्रसाद, राजेश्वरी यादव ने संयुक्त रुप से की। कन्वेंशन को संबोधित करने वालों में केन्द्रीय कमेटी के सदस्य रामजतन शर्मा, रीता वर्णवाल, महानंद, गणेश यादव, नंदकिशोर समेत कई लोग शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गरीब और किसान विरोधी है मोदी और नीतीश की सरकार: दीपंकर