DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉल ड्रॉप इतना कि कहीं खुद ड्राप न हो जाएं रविशंकर: नीतीश

कॉल ड्रॉप इतना कि कहीं खुद ड्राप न हो जाएं रविशंकर: नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि केंद्रीय मंत्री बिहार आकर कुछ-कुछ बोल रहे हैं लेकिन वे अपने जिम्मे के काम पर कभी कुछ नहीं कहते। एक वर्ष में उनके महकमे ने क्या किया इस पर बोलने के बजाए वे लोग दूसरी ही बातें करते हैं। इस क्रम में केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि रोज प्रवचन देने वाले श्री प्रसाद कॉल ड्रॉप तो सुधारें। काल ड्रॉप इतना अधिक हो रहा है कि कहीं खुद ड्रॉप न हो जाएं रविशंकर प्रसाद। कॉल ड्रॉप सुधारने की हम उन्हें मित्रतापूर्ण सलाह दे रहे हैं।

कुमार सोमवार को जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। जीतन राम मांझी के भाजपा के साथ जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्वासघाती को जनता कभी स्वीकार नहीं करती।  देश और समाज की यह संस्कृति रही है। आज तक किसी भी परिवार ने अपने बच्चे का नाम विभीषण नहीं रखा है।

मुख्यमंत्री ने रविशंकर प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि सिर्फ बोलने से नहीं चलेगा कि बिहार में इतनी संख्या में टावर लगाएंगे। बीएसएनएल को तो बिहार में लोग कहते हैं-भाई साहब नहीं लगेगा। भाजपा नेताओं के पास असल में सहनशीलता है ही नहीं। जो चीज पसंद नहीं है उसे बर्दाश्त नहीं कर सकते। वैसे भी भाजपा है कहां?

लोकसभा चुनाव में मिली सफलता के बाद वह अहंकार में डूबी है। सुशील कुमार मोदी द्वारा लगातार उनके खिलाफ दिए जा रहे बयान पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे पास इतनी फुर्सत नहीं है कि उनके बयानों को मैं पढ़ूं। कुछ लोगों को काम नहीं है। बेकार बैठे लोग ज्यादा बोलते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कॉल ड्रॉप इतना कि कहीं खुद ड्राप न हो जाएं रविशंकर: नीतीश