DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जहर का मतलब नीतीश नहीं भाजपाः लालू

जहर का मतलब नीतीश नहीं भाजपाः लालू

राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि जहर का मतलब नीतीश नहीं भाजपा है। नीतीश कुमार को जहर बोलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि ये सब मीडिया की उड़ाई हुई खबरें हैं और उन्होंने नीतीश को जहर नहीं बोला। मैंने कहा था कि सांप्रदायिक ताकतों को दूर करने के लिए मैं विष भी पी सकता हूं। सांप्रदायिक ताकतों को परास्त करने की इस लड़ाई में वे नीतीश कुमार के साथ हैं।

एक निजी चैनल से विशेष बातचीत में श्री प्रसाद ने कहा कि जो उनकी बात नहीं समझ पाता वो उल्लू है। किसी भी चीज को स्वीकार कर लेंगे, लेकिन भाजपा को सत्ता में नहीं आने देंगे। कहा कि विधानसभा चुनाव में हम हारे या जीतें लेकिन नीतीश कुमार का साथ कभी नहीं छोड़ेंगे। गठबंधन के बाद विलय की ओर बढ़ेंगे। आपस में एकदूसरे से झगड़ना हमारी भूल थी। हमारे बिखराव का भाजपा ने फायदा उठाया। सांप्रदायिकता के सामने देश को नहीं छोड़ सकते।

लालू प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री पद के लिए नीतीश कुमार के साथ उनका कभी विरोध नहीं रहा। लोग नहीं चाहते थे कि नीतीश व लालू साथ आएं। लोग चादर ओढ़ के सोए थे। ऐसा धमाका किया कि लोगों की हालत खराब है। भाजपा को नेस्तानबूद कर देंगे। अपने परिवार के लोगों की राजनीति में आने पर उन्होंने कहा कि वे 68 साल के हैं और क्या राजनीतिक परिवार के बच्चों को राजनीति में आने का हक नहीं है? अगर वे मुख्यमंत्री बनना चाहेंगे तो क्या कोई उन्हें रोक सकता है?

कहा कि सांप्रदायिक शक्तियों द्वारा उकसाया जाता है कि मैं प्रतिक्रिया दूं। बिहार में विधान सभा का चुनाव देश का चुनाव है। चुनावी दंगल का फाइनल है। नीतीश कुमार का हाथ थामकर भाजपा को देश से भगाएंगे। बिहार चुनाव के बाद विलय की ओर बढ़ेंगे। बिहार और उत्तर प्रदेश में सामाजिक न्याय की ताकतों का कब्जा है। बिहार चुनाव के बाद वे पूरे देश में साम्प्रदायिकता के खिलाफ मुहिम चलाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जहर का मतलब नीतीश नहीं भाजपाः लालू