अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएस-3 के दोपहिया वाहनों की खरीदने के लिए शोरूम के बाहर भारी उमड़ी भीड़

बीएस-3 के दोपहिया वाहनों की खरीदने के लिए शोरूम के बाहर भारी उमड़ी भीड़

शहर में पिछले दो दिनों में बीएस-3 (भारत स्टेज-3) गाड़ियों की बिक्री का अंतिम दिन होने के कारण 31 मार्च को अलग-अलग कंपनियों की लगभग 15 सौ गाड़ियों की रिकार्ड बिक्री हुई। दो दिनों में हुई बिक्री ने पिछले कई वर्षों में धनतेरस पर हुई गाड़ियों की बिक्री का रिकार्ड ध्वस्त कर दिया। इन दो दिनों में शहर के वाहन बाजार ने लगभग 15 करोड़ रुपये का कारोबार किया है।

बीएस-थ्री गाड़ियों की बिक्री बंद होने की खबर के बाद से ही दुकानों में भीड़ उमड़ने लगी थी। गुरुवार को भी लोगों ने बड़ी संख्या में खरीदारी की। शुक्रवार सुबह आठ बजे से ही गाड़ी खरीदने के लिए लोगों की भीड़ विभिन्न शोरूम के बाहर खड़ी हो गयी। सबसे अधिक भीड़ दो पहिया गाड़ियों के शोरूम के बाहर खड़ी थी। कार के शोरूम में स्थिति सामान्य रही। महिन्द्रा शोरूम में गाड़ियां की बिक्री हुई। मारुति शोरूम संचालक ने बताया कि उनके यहां बीएस-3 गाड़ियां नहीं हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने लोगों की सेहत का हवाला देकर देशभर में बीएस-3 गाड़ियां बेचने और उनके रजिस्ट्रेशन पर रोक लगा दी है। यह प्रतिबंध एक अप्रैल से लागू हो जायेगा।

दोपहर में ही स्टॉक खत्म : मांग इतनी थी कि दोपहर के पहले तक ही सभी बीएस-थ्री गाड़ियों का स्टॉक समाप्त हो गया। गाड़ियों की आस लगाए लोग शो रूम के बाहर खड़े थे। इस बीच शो रूम में हंगामा और धक्का मुक्की भी हुई। हालात संभालने के लिए पुलिस को बुलाना पड़ा। अलीगंज स्थित हीरो के शोरूम में तो जैसे मेला लगा था। लग रहा था जैसे कब काउंटर पर झगड़ा हो जाए। खलीफाबाग स्थित होंडा और टीवीएस के शो रूम का भी यही हाल था। यहां आने वाले लोगों ने सड़कों पर गाड़ियां खड़ी की थी जिससे जाम लग गया। मनाली चौक स्थित यामाहा के शोरूम में भी खूब भीड़ रही।

लेना है तो लीजिए नहीं तो दूसरे को दे देंगे

विभिन्न कंपनियों ने अलग-अलग मॉडल पर अलग-अलग डिस्काउंट दिया। सुजुकी की सभी गाड़ियों पर 15 हजार रुपए का डिस्काउंट था। टीवीएस में अलग-अलग मॉडल पर अलग-अलग डिस्काउंट था। होंडा 10 हजार से 22000 तक का डिस्काउंट दिया। कई जगहों पर गाड़ियां की मांग अधिक होने पर दुकानदारों ने डिस्काउंट कम कर दिया। ग्राहकों ने इसका विरोध भी किया लेकिन दुकानदारों का कहना था, लेना है तो लीजिए नहीं तो दूसरे को दे देंगे।

एक आदमी के नाम कई गाड़ियां

विभिन्न शो रूम से शिकायत मिली है कि एक आदमी के नाम से कई-कई गाड़ियां खरीदी गई हैं। डीलरों ने अपने ही स्टाफ के नाम पर इन गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन करा लिया। सूत्रों ने बताया कि इन गाड़ियां को दूसरों को कम छूट देकर बेचने की योजना है। लोगों को यह कह दिया गया कि स्टॉक पहले ही खत्म हो गया। एक-दो जगह पर एक ही गाड़ी को दो-दो नाम पर बुक कर देने की सूचना मिली है। इसे लेकर लोगों के बीच विवाद भी हुआ।

----

यह भी जानें

आखिर बीएस-3 मानक है क्या

बीएस का अर्थ है भारत स्टेज। इससे इस बात का पता चलता है कि वाहन कितना प्रदूषण फैला रहा है। बीएस के जरिए ही गाड़ियों से निकलने वाले धुएं से होने वाले प्रदूषण को जांचा जाता है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड बीएस मानक तय करता है।बीएस के साथ नंबर दिया जाता है। यही नंबर वाहन से निकलने वाले धुएं की गंभीरता को दर्शाता है। बीएस मानक नंबर जितना ज्यादा होगा उतना ही कम प्रदूषण फैलाएगा।

31 मार्च से पहले का बिल तभी पंजीकरण

विशेषज्ञों के अनुसार बीए-4 मॉडल में प्रदूषण नियंत्रण के लिए दो फिल्टर लगे हुए हैं। 31 मार्च तक बिल कटवाने पर ही बीएस-3 का आगे पंजीकरण हो सकेगा। इसके बाद बिल कटने पर बीएस-3 वाहनों का पंजीकरण प्रतिबंधित होगा। इसके लिए 31 मार्च का टोकन ही मान्य होगा।

-------

- सुबह 8 बजे शो रूम खुलने से पहले ही पहुंच चुके थे खरीदार

- एक घंटे में आउट ऑफ स्टॉक हो गए थे अधिकतर शो रूम से मोटरसाइकिल और स्कूटर

- एक्टिवा, फसिनो, ड्यूट जैसे स्कूटर की रही जबरदस्त मांग

- लगातार होती रही पैरवी, परेशान रहे शो रूम संचालक

- हंगामा के मद्देनजर प्रमुख शो रूम पर पुलिस रही तैनात

- देर शाम तक वाहन मिलने की उम्मीद में जमे रहे खरीददार

- आसपास से भी आए थे खरीदारी, वाहन नहीं मिलने पर हुई निराशा

गाड़ी बिक्री संख्या कीमत

हीरो 900 5 करोड़

होंडा 122 1.25 करोड़

सुझुकी 50 20 लाख

टीवीएस 100 55 लाख

यामाहा 230 1.30 करोड़

महिंद्रा 10 80 लाख

(बोलेरो)

महिन्द्रा 50 2.5 करोड़

(व्यावसायिक)

_____________________________

कुल 1462 11.58

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:public gathered for buying bike