DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मीट की दुकानें बंद होने पर भड़का कुरैशी समाज

मीट की दुकानें बंद होने से कुरैशी समाज के लोग भड़क गए। उन्होंने कलक्ट्रेट में प्रदर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को दिया। कहा-पूरी तरह से कारोबार चौपट होने से समाज के लोग भुखमरी की कगार पर पहुंच गए हैं।

जन समस्या मेला समिति के जिलाध्यक्ष नौशाद कुरैशी के नेतृत्व में मीट विक्रेताओं ने ज्ञापन दिया। जिसमें 11 मार्च 2018 लाइसेंस बनवाने के लिए मोहलत देने, छोटी कमियों के चलते बंद किए गए स्लाटर हाउस को दोबारा से शुरू कराने, प्रतिबंधित पशु कटान पर कड़े कानून बनाने की मांग की गई। लोगों ने ककरा कलां स्लाटर हाउस को टीन की चादर डालकर शुरू कराने, स्लाटर हाउस पर काम तेजी से कराए जाने, विशेष जाति को टारगेट बनाकर अभद्रता करने वालों पर कार्रवाई का मुद्दा उठाया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि जमातुल कुरैश के पदाधिकारियों ने सीएम से वार्ता की थी। जिसमें सीएम ने वैध लाइसेंसों पर कारोबार करने की हामी भर दी है। ज्ञापन देने वालों में सगीर, मोहम्मद सईद, तौफीक, अब्दुल लईक कुरैशी, मोहम्मद शरीफ कुरैशी, महफूज, तनवीर, आशिक, असलम, रईस, तनवीर कादरी, मोहम्मद इशहाक, इकबाल हसन, मोहम्मद जहीर, मोहम्मद मोबिन, चांद मियां आदि शामिल रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Khurca Quraishi Society, When Meat Shops Are Closed