DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिन्स फैक्ट्री में काम कराने के लिए ले जाते नौ बाल मजदूर कराए गए मुक्त, दलाल फरार

यूपी स्थित जिन्स फैक्ट्री में काम कराने ले जा रहे सुपौल और मधेपुरा जिले के विभिन्न प्रखंडों के नौ बाल मजदूरों को शुक्रवार की सुबह प्रशांत रोड से चाइल्ड लाइन ने मुक्त कराया। मुक्त कराए गए बच्चे 11 से 13 वर्ष तक के हैं। बच्चे सुपौल जिले के छातापुर, जदिया, राघोपुर और मधेपुरा के शंकरपुर थाना क्षेत्र के हैं। बच्चे को परदेश ले जाने वाले दो दलाल मौके से फरार हो गए।

चाइल्ड लाइन के कोऑर्डिनेटर बाल किशोर झा ने सदर थानाध्यक्ष को आवेदन देकर मुक्त कराए गए बच्चे की सूचना दे दी है। सीडब्ल्यूसी के निर्णय पर सभी बच्चे को अभी गौतमनगर के बंफर चौक स्थित बाल गृह में रखा गया है। कोऑर्डिनेटर ने बताया कि बच्चों को यूपी के सहारनपुर स्थित किसी फैक्ट्री में जिन्स कपड़े में चेन लगाने सहित अन्य कार्य के लिए ले जाया जा रहा था। प्रशांत मोड़ के पास इन्हें टेम्पो से उतारकर अमृतसर जाने वाली जनसेवा एक्सप्रेस ट्रेन से ले जाने की तैयारी थी। बच्चे को न्यायालय में प्रस्तुत कर बयान कराते उनके माता-पिता को सौंप दिया जाएगा।

ये बच्चे कराए गए मुक्त : सुपौल जिले के जदिया थाना क्षेत्र के खूट कोरियापट्टी निवासी मनीष कुमार, चिकनी मानगंज के अमित कुमार, चकरधह के दीपक कुमार, छातापुर के साहबान, सहरवा झकारगंज के वसीम अकरम, सहरवा रामपुर के मो. आरिफ, मोहम्मदगंज के सिकेन कुमार, गणपतगंज राघोपुर के मो. अजमुद्दीन और मधेपुरा जिले के शंकरपुर निवासी कुलदीप कुमार हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nine child laborers free, broker absconding