DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रशिक्षित बेरोजगारों ने दी आंदोलन की चेतावनी

तहसील के प्रशिक्षित बेरोजगारों ने एक बार फिर अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था को तत्काल समाप्त करने की मांग की। प्रशिक्षितों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार ने 5500 पदों पर तत्काल नियमित नियुक्ति करने के लिए विज्ञप्ति जारी नहि की तो वे प्रदेश व्यापी आंदोलन करने को बाध्य होंगे साथ ही सरकार के खिलाफ अवमानना याचिका दायर करेंगे।प्रशिक्षित बेरोजगार संघ के तहसील संयोजक दीप तिवारी की अध्यक्षता में रामलीला मैदान में आयोजित बैठक में प्रशिक्षितों ने कहा कि सरकार अतिथि शिक्षकों के नाम पर नियुक्ति कर उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है।

उन्हें गुमराह कर रही है। प्रशिक्षितो ने कहा कि सरकार को तत्काल अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था समाप्त करनी चाहिए और 5500 पदों पर नियमित भर्ती के लिए विज्ञप्ति जारी करनी चाहिए। प्रशिक्षितों ने कहा कि उच्च न्यायालय ने भी सरकार से अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था को समाप्त कर 5500 पदों पर नियमित भर्ती करने के आदेश दिए थे। लेकिन सरकार उच्च न्यायालय के आदेश भी नही मान रही है। प्रशिक्षितों ने कहा कि चुनाव के समय भाजपा ने बेरोजगारों से नियमित भर्ती करने का वायदा किया था, लेकिन अब सरकार बनने के बाद भाजपा अपना वादा भूल गई है। प्रशिक्षितों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार ने अतिथि शिक्षकों की व्यवस्था समाप्त नहीं की और उच्च न्यायालय का आदेश नहीं माना तो वे सरकार के खिलाफ हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दायर करेंगे। बैठक का संचालन सुरेश जोशी ने किया। बैठक में महेंद्र नेगी, जगदीश जोशी, गणेश भट्ट, वीरेंद्र बिष्ट, जगमोहन, अरविंद सिंह, नरेश भट्ट, कमल जोशी, भुवन पांडे, कैलाश रावत, हरीश नेगी, धनंजय गढ़िया, सतीश चन्द्र, भावना रावत, नेहा पाठक, हेमा जोशी, कल्पना बोरा, भगवती भट्ट आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Trained unemployed warned of agitation