DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मझगांवा में होगा कूड़े का निस्तारण

आजमगढ़मझगांवा में होगा कूड़े का निस्तारण

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Tue, 09 May 2017 12:00 AM
मझगांवा में होगा कूड़े का निस्तारण

शहर से निकलने वाले कूड़े के निस्तारण के लिए कई दशक से भूमि की चल रही तलाश आखिर नपा व जिला प्रशासन के अधिकारियों के प्रयास से रंग लाई। नपा ने बेलइसा में भूमि चिहिन्त करने की जो बात कहीं थी, उक्त भूमि बेलइसा में नहीं बल्कि मझगांवा गांव में चिन्हित किया गया है।

नगर पालिका क्षेत्र से प्रतिदिन लगभग पच्चीस टन से अधिक कूड़ा निकलता है। कूड़ा निस्तारण के लिए कोई जमीन नपा के पास न होने से उसे शहर के बंधे के पास अभी तक फेका जा रहा था। बंधे के किनारे फेके गए कूड़े में आग लगाकर उसे निस्तारण किया जा रहा था। कूड़ा जलाए जाने से निकलने वाले प्रदुषण से आम व्यक्ति जूझ रहे थे। शहर के लोग काफी अर्से से बंधे के किनारे कूड़ा फेके जाने और जलाने का प्रतिरोध करते आ रहे थे। गुरुवार को नपा के सफाई कर्मी जब नरौली के पास बंधा के किनारे कूड़ा गिरा रहे थे तो स्थानीय लोगों ने सफाई कर्मियों को पीट दिया था। जिसके चलते सफाई कर्मी शुक्रवार को हड़ताल पर चले गए थे। सफाई कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से दो दिन तक शहर में कूड़े का उठान नहीं हुआ था। इस मामले के निस्तारण के लिए नपा के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारियों की संयुक्त बैठक शनिवार को हुई। बैठक में कुड़ा निस्तारण के लिए मझगांवा गांव में छह एकड़ जमीन चिन्हित कर लिया गया। जमीन चिन्हित होने के बाद उसके अधिग्रहण की कार्रवाई भी शुरू हो गई। इस बारे में तहसीलदार सदर ने बताया कि कूड़ा निस्तारण के लिए मझगांवा में जो एकड़ जमीन चिन्हित किया गया है, उक्त जमीन बंजर है। मझगांवा गांव अभी चकबंदी प्रक्रिया में चल रहा है। जमीन अधिग्रहण के लिए भूमि प्रबंधन समिति की ओर से प्रस्ताव भेजा जाएगा। प्रस्ताव मिलने के बाद उनके द्वारा उक्त जमीन के अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। जमीन अधिग्रहण होने में कितना समय लगेगा इसका कोई निर्धारित समय नहीं है। पालिका के ईओ का कहना है कि कूड़ा निस्तारण के लिए मझगांवा गांव में चिन्हित किए गए जमीन पर नगर पालिका प्रशासन की ओर से शहर से निकलने वाले कूड़े की डंपिंग का काम रविवार से शुरू करा दिया गया है। सफाई निरीक्षक सोमवार को जब कूड़ा गिरवाने के लिए मझगांवा गांव के चिन्हित जमीन पर पहुंचे तो वहां के कुछ लोगों ने विरोध किया। प्रशासनिक अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद गांव के लोग शांत हो गए। पालिका अघ्यक्ष ने कहा कि कूड़ा निस्तारण की समस्या से शहर के लोग काफी अर्से से जुझ रहे थे। प्रशासनिक अधिकारियों के पहल पर नगर पालिका को कूड़ा निस्तारण के लिए जमीन अब उपलब्ध हो गई है। जमीन के अधिग्रहण की कार्रवाई पूरी होते ही संयत्र लगा दिया जाएगा। कूड़ा निस्तारण के साथ ही बिजली की भी पैदावार होगी।

संबंधित खबरें