DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

न्यूजीलैंड में विजयी उड़ान को बेताब टीम इंडिया

0-20 का विश्व चैंपियन भारत डेनियल विटोरी की किवी टीम की ताकत से ज्यादा न्यूजीलैंड की धरती पर मौसम से परेशान है। यहां तापमान में गिरावट आई है, तो बारिश की वजह से भारतीय टीम के अभ्यास में बाधा भी पड़ चुकी है। ब्लैक कैप्स को मिलने वाली घरलू एडवांटेा और उनकी क्षमताओं से ज्यादा ठंड और तेज हवा धोनी के धुरंधरों के लिए मुसीबत खड़ी कर सकती है। लेकिन धोनी के धुरंधर ठंडे मौसम और तेज हवा में विजयी उड़ान भरने को पूरी तरह से तैयार हैं। 20-20 का विश्व चैम्पियन भारत अपनी सफलताओं के विजय रथ को आगे बढ़ाते हुए बुधवार को यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले 20-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में जीत के साथ इस दौरे का आगाज करने को बेताब हैं। महेन्द्र सिंह धोनी के करिश्माई नेतृत्व में भारतीय टीम में पिछले चार महीनों में ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और श्रीलंका के खिलाफ लगातार कामयाबी हासिल करने के बाद न्यूजीलैंड के दौरे पर पहुंची है। भारतीय टीम को इस दौरे पर पहुंचे हुए पांच दिन हो चुके हैं। लेकिन इस दौरान कोई अभ्यास नहीं होने के कारण उसे प्रतिस्पर्धात्मक मैच से ही दौरे की शुरुआत करनी पड़ रही है। छह वर्ष के लम्बे अंतराल के बाद न्यूजीलैंड दौरे पर आई भारतीय टीम इस दौरे का आगाज जीत के साथ करना चाहेगी ताकि आगे चलकर वह चार दशकों में न्यूजीलैंड में पहली बार सीरीज जीतने का सपना पूरा कर सके। भारत और न्यूजीलैंड के बीच यह दूसरा 20-20 अंतररारष्ट्रीय मैच होगा। इससे पहले दोनों टीमें 2007 में दक्षिण अफ्रीका में हुए 20-20 विश्व कप में भिड़ी थी तब न्यूजीलैंड ने भारत को हराया था। हालांकि भारत ने यह विश्व कप जीता था। धोनी के जांबाजों का पिछली लगातार सफलताओं से हौसला बुलंद है और इस दौरे पर आने से पहले भारत ने श्रीलंका को एकमात्र 20-20 मैच में पठान बंधुओं इरफान और यूसुफ के कमाल से हराया था। न्यूजीलैंड के कप्तान विटोरी और कोच मोल्स भारतीय टीम को इस बार काफी खतरनाक मान रहे हैं। यह आशंका गलत भी नहीं है, क्योंकि टीम इंडिया में कई ऐसे बल्लेबाज हैं जो लंबे शाट खेलने का पूरा माद्दा रखते हैं। युवराज के पिछले 20-20 विश्वकप में एक ओवर मे मारे गए छह छक्के तो पूरी दुनिया को अभी तक याद हैं। ओपनर गंभीर की पिछले डेढ़ वर्षो से चल रही चमत्कारिक फॉर्म किसी भी विपक्षी के लिए सिरदर्द बन सकती है। यूसुफ की तूफानी बल्लेबाजी किसी भी तरह की गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाने में सक्षम हैं। कप्तान धोनी अपनी बल्लेबाजी को मैच की जरूरत के अनुसार कभी भी बदल सकते हैं। केवल बल्लेबाजी ही नहीं, भारत का गेंदबाजी आक्रमण भी काफी सशक्त है। तेज गेंदबाज जहीर खान और इशांत शर्मा की गेंदों को मारना भी किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं है। ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह खेल के इस दनादन स्वरूप में गजब की यॉर्कर डाल देते हैं। ऑलराउंडर इरफान इस तरह की क्रिकेट के लिए गेंद और बल्ले दोनों से बहुत उपयोगी साबित हो सकते हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: न्यूजीलैंड में विजयी उड़ान को बेताब टीम इंडिया