बिहार में मार्च में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा - बिहार में मार्च में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा DA Image
12 दिसंबर, 2019|8:06|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में मार्च में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा

बिहार में मार्च में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा

बिहार में राजधानी और अन्य हिस्सों में मौसम ने पूरी तरह करवट ले ली है। इस वर्ष मार्च में ही गर्मी ने पिछले चार वर्षों की गर्मी का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

मौसम विभाग कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक पांच मार्च को पटना का अधिकतम तापमान 35.1 डिग्री सेल्सियस था, जबकि पिछले वर्ष पांच मार्च को पटना का अधिकतम तापमान 34.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। इसी तरह 5 मार्च 2008 को पटना का अधिकतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस तथा 5 मार्च 2007 को 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

विभाग में उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक इसी तरह एक मार्च 2010 को पटना का अधिकतम तापमान 32.7 डिग्री सेल्सियस था वहीं पिछले वर्ष एक मार्च को अधिकतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। विभाग के मुताबिक एक मार्च 2008 को 29.0, एक मार्च 2007 को 22.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

ऐसा नहीं कि यह हालत केवल पटना की है, बिहार के अन्य क्षेत्रों में भी तापमान की स्थिति कमोबेश ऐसी ही बनी हुई है। विभाग के मुताबिक शनिवार को पटना का न्यूनतम तापमान 18.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया है जबकि गया का न्यूनतम तापमान 19.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। इसी तरह भागलपुर का न्यूनतम तापमान 23. 0 डिग्री तथा पूर्णिया का 18.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

इधर, पटना के मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक अनिमेश चंद्रा ने बताया कि आसमान साफ है और पछुआ गरम हवाएं राज्य में चल रही हैं इससे राज्य के अधिकतम तापमान में वृद्घि दर्ज की जा रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में तापमान में और वृद्घि की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में मार्च में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा