अकरम खान बनें विधानसभा उपाध्यक्ष - अकरम खान बनें विधानसभा उपाध्यक्ष DA Image
10 दिसंबर, 2019|4:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अकरम खान बनें विधानसभा उपाध्यक्ष


हरियाणा विधान सभा में शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी के इकलौते विधायक अकरम खान को सर्वसम्मति से उपाध्यक्ष चुन लिया गया। इसके बाद विधान सभा की प्रेस लॉबी में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में पहली बार विपक्ष के सदस्य को उपाध्यक्ष बनाया गया है और मौजूदा सरकार ने एक नई परंपरा स्थापित की है।

मुख्यमंत्री ने सदन में उपाध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रस्ताव लाकर अकरम खान के नाम का प्रस्ताव किया, जिसका संसदीय कार्य मंत्री रणदीप सिंह सुरजेवाला ने समर्थन किया। हालांकि, मुख्यमंत्री ने अकरम खान को विपक्ष का सदस्य बताया, लेकिन हकीकत यह है कि कांग्रेस सरकार को उनका समर्थन है। यह पूछे जाने पर कि क्या उन्हें उपाध्यक्ष बनाया जाना एक बाध्यता थी, इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वे बीएसपी के हैं और यह एक राष्ट्रीय पार्टी है।

हुड्डा ने कहा कि वर्ष 2010-11 के लिए राज्य का बजट आम आदमी का बजट होगा तथा यह प्रदेश में अब तक प्रस्तुत किए गए बजट से सबसे बड़ा बजट होगा। सदन मे पंजाब सरकार द्वारा राज्यपाल के अभिभाषण में उठाए गए चंडीगढ़ के मुद्दे की ओर ध्यानाकर्षित किए जाने पर हुड्डा ने कहा कि यह राज्यपाल के अभिभाषण का मुद्दा नहीं था।

बहरहाल, उन्होंने स्मरण करवाया कि दिल्ली में हाल ही में कानून एवं व्यवस्था पर हुई एक बैठक में पंजाब के मुख्यमंत्री ने चंडीगढ़ के इसी मुद्दे को उठाया था तथा उन्होंने स्पष्ट कर दिया था कि पंजाब का चंडीगढ़ पर उतना ही अधिकार है, जितना की हरियाणा का। इसलिए, यदि पंजाब एक अलग राजधानी चाहता है तो पंजाब के लिए यह बेहतर होगा कि वह चंडीगढ़ के बाहर अपनी राजधानी बनाए।

चंडीगढ़ अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगर इस हवाई अड्डे का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाए तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं होगी। हरियाणा में खाप पंचायतों की कार्यप्रणाली पर हुड्डा ने कहा कि सरकार कानून के दायरे में बंधी है और कानून अपना काम करता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अकरम खान बनें विधानसभा उपाध्यक्ष