सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित - सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित DA Image
22 नवंबर, 2019|4:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित

डिग्री शिक्षकों के प्रदेशव्यापी बहिष्कार के चलते शुक्रवार को सीएसजेएम विश्वविद्यालय ने संस्थागत और व्यक्तिगत परीक्षाएँ स्थगित कर दी। अब रेगुलर की परीक्षाएँ 19 मार्च से होंगी और प्राइवेट परीक्षाओं की तिथिनए सिरे से घोषित की जाएगी। इससे पिछले दस सालों से भी अधिक समय से नियमित चल रहा सत्र अनियमित होना तय है।

लखनऊ में गुरुवार को हुई फुपुक्टा की बैठक में शिक्षकों ने संकेत दिए थे कि वे अपनी माँगें पूरी होने तक परीक्षा कार्यो का बहिष्कार जारी रखेंगे। इसमें परीक्षा सम्बन्धी हर तरह के काम काज शामिल हैं। एस्मा से बेखौफ शिक्षकों ने जेल जाने से परहेज न करने का भी मन बना लिया था। लिखित से पहले प्रैक्टिकल परीक्षाओं के बहिष्कार के चलते विश्वविद्यालय प्रैक्टिकल नहीं करा सके हैं। सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षाएँ नौ मार्च से थीं और शिक्षक इसे स्थगित करने के लिए दबाव डाल रहे थे।

शुक्रवार को सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षा समिति में केवल एक बिन्दु पर ही चर्चा हुई। रेगुलर परीक्षाएँ कराए जाने में आ रही मुश्किलों को देखते हुए आखिर आम सहमति से फैसला लिया गया कि नौ से 18 मार्च तक की रेगुलर परीक्षाएँ स्थगित कर दी जाएँ। 19 मार्च से सामान्य स्कीम से ही परीक्षाएँ कराई जाए। परीक्षाएँ खत्म होने के बाद नौ से 18 मार्च तक के शेष रह गए प्रश्नपत्रों की परीक्षाओं का शेड्यूल घोषित कर दिया जाएगा।

प्राइवेट परीक्षाएँ 15 अप्रैल से होनी थीं। इन परीक्षाओं के लिए निर्णय लिया गया कि इसका परीक्षा कार्यक्रम नए सिरे से तैयार किया जाएगा। फिलहाल प्राइवेट परीक्षाएँ स्थगित कर दी गई हैं। कूटा अध्यक्ष डॉ. घनश्याम गुप्ता और महामंत्री डॉ. विवेक द्विवेदी ने परीक्षा समिति के परीक्षा स्थगित करने के फैसले को सही ठहराया। परीक्षा समिति की बैठक में कुलपति प्रोफेसर हर्ष कुमार सहगल, डॉ. आशा रानी राय और केएन सिंह आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीएसजेएम विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित