चांद पर विशालकाय खड्ड खोजा चंद्रयान ने - चांद पर विशालकाय खड्ड खोजा चंद्रयान ने DA Image
13 नबम्बर, 2019|12:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चांद पर विशालकाय खड्ड खोजा चंद्रयान ने

चांद पर विशालकाय खड्ड खोजा चंद्रयान ने

भारत के मानवरहित मिशन चंद्रयान-1 में गये नासा के उपकरण से प्राप्त आंकड़ों के विश्लेषण से पता चला है कि पृथ्वी के इस उपग्रह पर 2400 किलोमीटर लंबा और नौ किलोमीटर गहरा एक विशालकाय और बहुत गहरा खड्ड है।

चंद्रयान-1 के साथ नासा का मून मिनरोलाजी मैपर (एम3) चांद पर गया था। चांद पृथ्वी का इकलौता प्राकृतिक उपग्रह है। इस उपकरण ने जो आंकड़े दिये हैं उसके अनुसार चांद के निर्माण के तुरंत बाद एक क्षुद्रग्रह के साथ टक्कर होने के बाद दक्षिणी गोलार्ध में इस विशालकाय खड्ड का निर्माण हुआ। इस खड्ड का नाम साउथ पोल एतकेन बेसिन है।

ग्रीनबेल्ट स्थित नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के प्रमुख अनुसंधानकर्ता नोआ पेट्रो ने कहा कि चांद पर यह सबसे बड़ा और गहरा खड्ड है जिसमें अमेरिका के टेक्सास से लेकर ईस्ट कोस्ट का हिस्सा समा सकता है। 

टेक्सास में चांद और ग्रहीय विज्ञान की बैठक में पेट्रो ने गुरुवार को अपने निष्कर्ष रखे। पेट्रो के अनुसार, चांद की सतह पर पपड़ी के भीतर टकराने के बाद यह क्षुद्रग्रह धंस गया होगा और इससे निकला पदार्थ चांद और पूरे अंतरिक्ष में बिखर गया होगा। नासा ने कहा कि टक्कर के कारण उत्पन्न भारी ताप के कारण इस खडड की सतह भी पिघल गयी होगी।

अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था ने कहा है कि यह पहली टक्कर थी। अरबों वर्षों में क्षुद्रग्रहों की बौछार से चांद की सतह धब्बे वाली हो गयी है। यहां छोटे बड़े कई खड्ड हैं। ये लावा, मलबा और धूल के आवरण से घिरे हैं। उल्लेखनीय है कि चंद्रयान-1 के साथ 11 उपकरण रवाना किये गये थे और एम-3 भी उनमें से एक था।

नासा ने कहा कि चांद के वास्तविक सतह या पपड़ी की इस झलक में गहरा खड्ड दिखना अब भी दुर्लभ है। बहरहाल साउथ पोल एतकेन (एसपीए) में यह दिख सकता है। छोटे-छोटे क्षुद्रग्रहों की टक्कर के कारण बने इस खड्ड का नाम अपोलो बेसिन है और अब भी इसका विस्तार 300 मील तक है।

पेट्रो ने कहा कि अपोलो और एसपीए बेसिन हमें चांद के शुरूआती विकास के बारे में जानकारी देते हैं और चांद हमें यह बताता है कि तरूणाई में पथ्वी किसी प्रकार अत्यधिक सक्रिय थी। नासा ने कहा कि एसपीए और अपोलो को चांद के पुराने खड्ड में गिनती की जाती है क्योंकि इनके उपर छोटे-बड़े कई खड्डे बने हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चांद पर विशालकाय खड्ड खोजा चंद्रयान ने