छठे वेतनमान में घट गया वेतन - छठे वेतनमान में घट गया वेतन DA Image
12 दिसंबर, 2019|7:35|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छठे वेतनमान में घट गया वेतन


छठे वेतनमान के बाद जहां विभिन्न श्रेणी के राज्य कर्मचारियों के वेतन में एक से तीन हजार रुपये की बढोतरी हुई है, वहीं लोक निर्माण विभाग, सिंचाई सहित अन्य विभागों के लगभग साढ़े सात हजारों वर्कचार्ज कर्मचारियों का वेतन घट गया। क्योंकि छठे वेतन के बाद उनके सभी भत्ते बंद हो गए हैं।

वर्कचार्ज कर्मियों को जितना वेतन छठे वेतन से पहले मिलता था, सिक्स-पे लागू होने के बाद उससे भी कम वेतन उन्हें मिल रहा है। विभिन्न श्रेणी के कर्मचारियों का आरोप है कि उनकी तनख्वाह में पहले की अपेक्षा 10 से 20 रुपये तक की कटौती हो गई है। वर्कचार्ज कर्मियों को छठा वेतन लगाते समय वित्त विभाग की वेतन समिति ने उत्तर प्रदेश की बजाज समिति को फॉलो किया है, लेकिन लाभ देने के मामले में बजाज समिति की संस्तुतियों को दरकिनार किया गया है।

वर्कचार्ज कर्मचारियों का कहना है कि, उत्तर प्रदेश में जहां वर्कचार्ज कर्मियों को ग्रेड वेतन व अन्य भत्ते मिल रहे हैं, वहीं उत्तराखंड में इस तरह का कोई लाभ कर्मचारियों को नहीं दिया जा रहा। यूपी में वेतन पुनरीक्षण में इंक्रीमेंट को भी स्पष्ट किया गया है। जबकि यहां की वेतन समिति ने वेतन पुर्नीक्षण में इंक्रीमेंट को कहीं भी नहीं दर्शाया है। मूल वेतन पर सीधे अधिकतम वेतन फिक्स कर दिया गया है।

साथ ही ग्रेड वेतन विभिन्न भत्तों में कटौती कर दी गई है। लोनिवि दैनिक/कार्यप्रभारित कर्मचारी यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष बाबू खान ने कहा कि सिंचाई विभाग व अन्य विभागों के वर्कचार्ज कर्मियों के साथ मिलकर बैठक की जाएगी। यदि राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश की तरह कार्य प्रभारित कर्मचारियों को समस्त लाभ नहीं दिए तो उन्हें प्रदेशव्यापी आंदोलन शुरू
किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छठे वेतनमान में घट गया वेतन