आयकर रिफंड में 50 प्रतिशत वृद्धि - आयकर रिफंड में 50 प्रतिशत वृद्धि DA Image
21 नवंबर, 2019|5:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयकर रिफंड में 50 प्रतिशत वृद्धि

आयकर विभाग ने कहा है कि आयकर रिफंड के मामले में पूरी तत्परता दिखाई जा रही है और पिछले वित्तीय वर्ष के मुकाबले इस बार अब तक रिफंड 50 प्रतिशत बढकर 42 हजार करोड एपये तक पहुंच चुका है।

     केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) अध्यक्ष एस एस एन मूर्ति ने आज कहा इस साल अब तक 42 हजार करोड़ रुपये के रिफंड जारी किये जा चुके हैं जबकि पिछले वित्त वर्ष इस दौरान 28 हजार करोड़ रुपये रिफंड किये गये थे। उन्होंने कहा कि विभाग आयकर रिफंड के प्रति पूरी तरह तत्पर है और नये वित्त वर्ष में रिफंड में कोई ढिलाई नहीं होगी।

     वाणिज्य एवं उद्योग संगठन (एसोचैम़) के साथ बजट प्रावधानों पर एक परिचर्चा में सीबीडीटी अध्यक्ष ने कहा, अगले साल प्रत्यक्ष करों से चार लाख 20 हजार करोड़ रुपये की उगाही का लक्ष्य रखा गया है जबकि बजट में 26 हजार करोड़ रुपए की रियायतें दी गयी है। सरकार को लक्ष्य हासिल होने का पूरा विश्वास है।

    उल्लेखनीय है कि वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने 2010-11 के बजट में व्यक्तिगत आयकर के स्लैब (स्तरों) में बदलाव कर के तथा कंपनियों पर सरचार्ज में कमी की है। इससे वर्ष के दौरान 26 हजार करोड़ रुपये की उगाही मारी जाएगी। उन्होंने कहा बजट में प्रत्यक्ष करों के मामलों में विभाग ने तीन बातों पर गौर किया है। कर स्लैब को तर्कसंगत बनाया गया है, कंपनियों को आयकर मामले में लाभ से जुड़ी रियायत के बजाय निवेश से जुडी रियायत देने और प्रस्तावित प्रत्यक्ष कर संहिता की दिशा में कदम बढाने का मजबूत संकेत दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयकर रिफंड में 50 प्रतिशत वृद्धि