'हिंदुओं पर लिखी पुस्तक को वापस ले पेंग्विन' - 'हिंदुओं पर लिखी पुस्तक को वापस ले पेंग्विन' DA Image
22 नवंबर, 2019|4:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'हिंदुओं पर लिखी पुस्तक को वापस ले पेंग्विन'

'हिंदुओं पर लिखी पुस्तक को वापस ले पेंग्विन'

अमेरिका में रह रहे हिंदू समुदाय के लोगों ने प्रख्यात लेखक वेंडी डोनिंगर पेंग की हिंदुओं पर लिखी पुस्तक में ऐतिहासिक तथ्यों और संस्कृत अनुवाद में भारी गड़बड़ियां होने का आरोप लगाते हुए पेंग्विन प्रकाशन समूह से इसे तुरंत वापस लेने का अनुरोध किया है।

अमेरिका में एक ऑनलाइन याचिका में आरोप लगाया गया है कि पेंग की पुस्तक 'द हिंदूज-एन अल्टरनेटिव हिस्ट्री' में कई ऐसी गड़बड़ियां और तथ्यों की गलत व्याख्या है, जिसका उद्देश्य भारतीय और हिंदू इतिहास के बारे में छात्रों को गुमराह करना है।

इस याचिका में कहा गया है कि पेंग ने अपनी पुस्तक में अपनी धारणाओं को साबित करने के लिए हिंदू परंपराओं के बारे में कई भ्रामक विचार दिए हैं। इसके चलते उन्होंने हिन्दूओं की मान्यताओं, परंपराओं और व्याख्याओं को पूरी तरह से नजरअंदाज किया है। यह पुस्तक वर्ष 2009 में प्रकाशित हुई थी।

गौरतलब है कि इससे पहले भी विदेशों में हिंदुओं और सिखों की धार्मिक आस्थाओं के साथ खिलवाड़ किया गया है। यहां तक की पश्चिमी देशों में जूते-चप्पलों, टॉयलेट के कमोड, रूमाल, कपड़ों आदि पर हिंदु देवी-देवताओं की तस्वीरों का इस्तेमाल तक किया गया।

वहीं फ्रांस में सिखों को धार्मिक पहचान के चिह्न धारण करने और पगड़ी पहनने पर  रोक लगाई गई, हालांकि इस प्रतिबंध को विरोध के बाद हटा लिया गया था।

अभी हाल ही में हुए एक ऐतिहासिक फैसले के तहत काफी संघर्ष के बाद भारतीय मूल के लोगों को ब्रिटेन में भारतीय परंपराओं के साथ अंतिम संस्कार करने का अधिकार हासिल हुआ। इससे पहले वहां हिंदुओं को पारंपरिक रीति-रिवाजों से अंत्येष्टि करने की अनमुति नहीं थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'हिंदुओं पर लिखी पुस्तक को वापस ले पेंग्विन'