फोन पर ही सुलझेगी मानसिक उलझन - फोन पर ही सुलझेगी मानसिक उलझन DA Image
9 दिसंबर, 2019|11:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फोन पर ही सुलझेगी मानसिक उलझन

मानसिक उलझन से घिरे लोगों को अब फोन पर ही मदद मिल सकेगी। मानसिक रोगियों पर लम्बे समय से काम कर रहे डॉ. आलोक श्रीवास्तव ने इसके लिए मनदर्शन हेल्पलाइन शुरू की है। इंडियन साइक्रेटी एसोसिएशन के सदस्य डॉ. आलोक श्रीवास्तव का कहना है कि 35 प्रतिशत लोग किसी न किसी मानसिक उलझन की चपेट में रहते हैं।

ऐसे ज्यादातर लोग केवल सही सलाह के जरिए अपनी उलझन दूर कर सकते हैं। इसी को देखते हुए उन्होंने मन दर्शन हेल्पलाइन शुरू की है। इसके तहत कोई भी व्यक्ति एक मोबाइल (9453152200) पर फोन कर अपनी समस्या का निदान कर सकता है। अभी तक यह हेल्प लाइन सेवा फैजाबाद व आसपास के जिलों के लिए सीमित थी। लेकिन अब इसका विस्तार पूरे यूपी के लिए किया गया है।

डॉ. आलोक का कहना है कि ऐसे लोग जो किसी न किसी मानसिक उलझन में रहते हैं और संकोचवश डॉक्टर के पास तक जाने में झिझकते हैं उनके लिए यह हेल्प लाइन काफी मददगार साबित होगी। उन्होंने बताया कि हेल्प लाइन पर चौबीसों घण्टे विशेषज्ञ लोगों की समस्याओं का जवाब देने के लिए मौजूद रहेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फोन पर ही सुलझेगी मानसिक उलझन