DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बांग्लादेश की आंच भारत भी पहुंची

उस पार (बांग्लादेश) के सिपाही विद्रोह की आंच इस पार (पश्चिम बंगाल) भी पहुंच गई। ढाका में बांग्लादेश राइफल्स के कुछ सिपाहियों के विद्रोह से चिंतित मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने राज्य सचिवालय में उच्च स्तरीय बैठक की। बैठक के बाद राज्य के गृह सचिव अर्धेदु सेन ने बताया कि ढाका की घटनाओं के मद्देनजर बांग्लादेश से लगे बंगाल के 2216 किलोमीटर सीमाई क्षेत्र में हाई एलर्ट घोषित कर दिया गया है। गृह सचिव ने बताया कि राज्य प्रशासन ढाका की परिस्थितियों पर कड़ी नजर रखे हुए है। कोलकाता में बीएसएफ के पूर्वी क्षेत्र के मुख्यालय में भी एक उच्चस्तरीय बैठक में ढाका की घटनाओं से उपजी स्थिति की समीक्षा हुई। बीएसएफ ने बंगाल के अलावा असम, मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा से लगी बांग्लादेश की कुल 40किलोमीटर सीमा में हाई एलर्ट कर दिया है। बंगाल के गृह सचिव के मुताबिक राज्य के पुलिस महानिदेशक सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों के लगातार संपर्क में हैं। कोलकाता के पुलिस आयुक्त को भी सतर्क कर दिया गया है। राज्य के एक अन्य उच्च पदस्थ प्रशासनिक अधिकारी ने कहा कि उस पार की घटनाओं से बंगाल प्रशासन चिंतित है क्योंकि उसका असर इस पार भी पड़ने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश में शेख हसीना सरकार के बने अभी कुछ ही दिन हुए हैं, एसे में वहां अचानक विद्रोह भड़कना चिंता की बात है। उन्होंने इसके पीछे आईएसआई का हाथ होने की आशंका से इंकार नहीं किया और कहा कि इस घटना में हसीना सरकार को अस्थिर करने का मकसद छिपा हो सकता है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बांग्लादेश की आंच भारत भी पहुंची