DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाइकोर्ट के आदेश से प्रभावित होगी हेड मास्टरों की नियुक्ित

हाई स्कूल के हेड मास्टरों की नियुक्ित हाइकोर्ट के आदेश से प्रभावित होगी। राजीव कुमार एवं अन्य की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाइकोर्ट ने यह निर्देश दिया है। याचिका में कहा गया है कि जेपीएससी ने वर्ष 2008 में नियुक्ित के लिए परीक्षा ली थी। इसमें दस साल के शिक्षण अनुभव को अनिवार्य किया गया था। प्रार्थी भी योग्यता रखते थे। परीक्षा में शामिल हुए और उन्हें सफल भी घोषित किये गये। बाद में सर्टिफिकेट की जांच कर नियुक्ित पत्र दिया जाने लगा। लेकिन प्रार्थियों को नियुक्ित पत्र नहीं मिला। सूचना के अधिकार के तहत प्रार्थियों ने नियुक्ित पत्र नहीं दिये जाने का कारण पूछा। बताया गया कि चूंकि वे वोकेशनल शिक्षक हैं। इस कारण उन्हें नियुक्ित पत्र नहीं दिया जा रहा है। इसके बाद प्रार्थियों ने कोर्ट में याचिका दायर की। अदालत को बताया कि नियुक्ित की शर्त में सिर्फ 10 साल के शिक्षण का अनुभव था।ड्ढr वोकेशनल, नन वोकेशनल का जिक्र नहीं किया गया था। इस बीच जेपीएससी ने पूर्व के परिणामों को रद्द कर संशोधित परिणाम निकाला। इस परिणाम को भी चुनौती दी गयी। प्रार्थियों का कहना है कि संशोधित परिणाम में गड़बड़ी है। असफल को सफल बताया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हाइकोर्ट के आदेश से प्रभावित होगी हेड मास्टरों की नियुक्ित