अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ढाका में मिलीं सामूहिक कब्र

बांग्लादेश राइफल्स (बीडीआर) के जवानों की बगावत को जितना साधारण समझा जा रहा था, वह उतनी ही संगीन साबित हो रही है। मुख्यालय के अंदर हुए खूनखराबे का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि शनिवार को भी मुख्यालय में तीन और सामूहिक कब्रें मिलीं। इन कब्रों से गोलियों से छलनी कई अन्य सैन्य अफसरों के शव मिले हैं। इनमें एक महिला का शव भी शामिल है। सना का तलाशी अभियान जारी है। सैन्य बचाव दल और दमकल कर्मियों ने शनिवार को जिन तीन सामूहिक कब्रों को ढ़ूंढ़ निकाला, उनमें कम से कम दस शव दफन थे। शुक्रवार को भी यहां से एक सामूहिक कब्र से 42 शव बरामद हुए थे जिनमें बीडीआर प्रमुख मेजर जनरल शकील अहमद का शव भी शामिल था। खबरों में बताया गया है कि अब तक मरने वालों की संख्या 81 पहुंच गई है जबकि अपुष्ट खबरों में यह आंकड़ा कहीं अधिक बताया जा रहा है। कम से कम 70 सैन्य अधिकारी अभी भी लापता बताए गए हैं। समाचार एजंसी सिन्हुआ ने बचाव दल का नतृत्व करन वाल अग्निशमन सवा क प्रमुख अबु नईम के हवाले से बताया कि सना और विभिन्न सुरक्षा एजंसियों क 2000 स ज्यादा सदस्य बीडीआर मुख्यालय की तलाशी ल रह हैं। खोजी कुत्तों की भी मदद ली जा रही है। बांग्लादश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की ओर स की गई आम माफी की पशकश क बाद बागियों द्वारा समर्पण कर दन पर गुरुवार को बगावत थम गई थी। बांग्लादश न बगावत मं मार गए लोगों क सम्मान मं तीन दिन क राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। मार गए सभी सैन्य अधिकारियों को राजकीय सम्मान क साथ सुपुर्द-ए खाक किया जाएगा। दश की सरहद की हिफाजत का दायित्व संभालन वाला बीडीआर गृहमंत्रालय क अधीन आता है लकिन उसक सभी वरिष्ठ अधिकारी सना स हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ढाका में मिलीं सामूहिक कब्र