DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बंद में नक्सलियों ने मचाया उत्पात

अपने साथियों की गिरफ्तारी के विरोध में चार राज्यों में बंद का आह्वान करनेवाले माओवादियों ने नक्सल प्रभावित इलाकों में जम कर उत्पात मचाया। शुक्रवार की रात साढ़े नौ बजे पलामू जिला के हुसैनाबाद थानांतर्गत महुदंड गांव में माओवादियों ने पंचायत और सामुदायिक भवन के अलावा बाजार समिति के भवन को उड़ा दिया। नक्सल प्रभावित पलामू, गढ़वा, लातेहार, गुमला, सिमडेगा, हाारीबाग, चतरा, कोडरमा और लोहरदगा जिले में बंद का व्यापक असर पड़ा। लंबी दूरी की गाड़ियां नहीं चलीं, वहीं कोयले-बाक्साइट की ढुलाई ठप रही। इधर नक्सलियों ने हिरणी फॉल के निकट गोली मारकर 45 वर्षीय प्रभात सिंह को घायल कर दिया। इनकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। इन्हें रिम्स के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। प्रभात सिंह उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के रहने वाले हैं। उधर माओवादियों ने शनिवार को तड़के उड़ीसा की सीमा से सटे भालुलता रेलवे स्टेशन को उड़ा दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने यहां के स्टेशन मास्टर और दो पोर्टरों को आधे घंटे से ज्यादा देर तक बंधक बनाये रखा। चांदीपोस से स्टेशन मास्टर व अन्य रलकर्मी भी लापता हैं, जिनकी खोजबीन की जा रही है। नक्सली वारदात से हावड़ा-मुंबई रेलमार्ग पर ट्रेनों का आवागमन घंटों तक बाधित रहा। हावड़ा-राजधानी एक्सप्रेस मनोहरपुर स्टेशन पर घंटों तक खड़ी रही। इस बीच डुमरी-गिरिडीह पथ पर शिलापत्थर(धावाटांड़) के समीप शनिवार की अहले सुबह करीब पांच बजे अपराधियों ने सड़क अवरुद्ध कर अखबार ढोनेवाले वाहनों पर बमबाजी की। इसमें एक डोली मजदूर की मौत हो गयी। प्रेस वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। उधर कोयलांचल में नक्सली बंद अब तक शांतिपूर्ण है। शनिवार अहले सुबह करमाबांध के पास रलवे लाइन पर बम की अफवाह के कारण कुछ देर ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बंद में नक्सलियों ने मचाया उत्पात