अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निकाल लिये 400 करोड़

राज्य में वित्तीय कुप्रबंधन का एक और नमूना सामने आया है। राज्य सरकार के दो दर्जन से अधिक विभागों में 400 करोड़ रुपये से अधिक की रकम निकाल ली गयी, जबकि इसका बजट में कोई प्रावधान नहीं था। यह मामला चालू वित्तीय वर्ष के दौरान हुआ है। शीर्ष स्तर पर बैठे अधिकारी इसे लेकर उधेड़बुन में हैं। उनकी समझ में नहीं आ रहा है कि यह राशि उन विभागों के अधिकारियों ने कैसे निकाल ली। बजट से अधिक की निकासी का मामला एजी ने पकड़ा। इसके बाद एजी की ओर से इसकी जानकारी दी गयी है और पूर मामले की जांच कराने को कहा गया है। एजी ने सरकार से स्पष्टीकरण भी मांगा है। वित्त विभाग के अधिकारी बजट से अधिक निकासी को संभव नहीं मानते हैं, लेकिन एजी द्वारा लिखे गये पत्र को आधार बनाकर उन्होंने जांच के लिए एक टीम तैयार करने की बात कही है। बजट से अधिक राशि की निकासी कोषागार की स्वीकृति के बिना संभव नहीं है। दस्तावेज के अनुसार शिक्षा विभाग में बजट से अधिक करीब 224 करोड़ रुपये निकाले गये, जबकि पेयजल स्वच्छता विभाग में 25 करोड़ और कल्याण विभाग में 13 करोड़ रुपये निकाले गये हैं।ड्ढr इधर बजट से अधिक राशि निकाले जाने के मामले को लेकर कोषागार की भूमिका पर सवाल उठाये जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: निकाल लिये 400 करोड़