DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑस्ट्रेलिया में चार भारतीयों पर हमला

ऑस्ट्रेलिया में चार भारतीयों पर हमला

ऑस्ट्रेलिया में भारतीयों पर हमलों की ताजा घटनाओं के तहत ब्रिस्बेन में हुई दो अलग-अलग वारदातों में तीन टैक्सी चालकों सहित चार भारतीय युवकों पर हमला किया गया।
   
स्काई न्यूज ने पीड़ितों के बारे में ज्यादा जानकारी दिए बिना खबर दी कि क्वींसलैंड के ब्रिस्बेन में चार और भारतीयों पर हमले हुए। इनमें से एक घटना में तीन टैक्सी चालकों को निशाना बनाया गया। तीन में से एक चालक ने बताया कि किस तरह उसे मुक्का मारा गया और टैक्सी से बाहर खींचा गया।
   
अनुमान के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया में टैक्सी चलाने वालों में 70 फीसदी भारतीय हैं। लिहाजा उनके इस तरह के हमलों का शिकार होने की आशंका भी ज्यादा रहती है। ये ताजा हमले भारतीयों के खिलाफ इस महीने हुई 10वीं घटना है।
   
एक अन्य घटना में पिज्जा डिलीवरी करने वाले एक 23 वर्षीय युवक को क्रिकेट के बैट से मारा गया और तब लूट लिया गया जब वह ब्रिस्बेन में पिज्जा पहुंचाने जा रहा था।
   
इस बीच ब्रिस्बेन स्थित भारतीय वाणिज्य दूत एसडी सिंह ने कहा कि पुलिस ने उन्हें हमलों के बारे में बुधवार को सूचित किया था। एक घटना में संलिप्त एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया है। उनके पास इन घटनाओं के बारे अधिक विवरण नहीं है।

सिंह ने कहा कि भारतीय उच्चायुक्त सुजाता सिंह गुरुवार को ब्रिस्बेन पहुंचेंगी और हमलों में हुए हालिया इजाफे के बारे में समुदाय के नेताओं और क्वींसलैंड पुलिस के सदस्यों से चर्चा करेंगी। यह बैठक शुक्रवार को होने की संभावना है।
   
वर्ष 2009 में भारतीयों और खासकर विद्यार्थियों पर हमले की 100 से अधिक घटनाएं दर्ज की गई थीं। इस वर्ष भी हमले अब तक निरंकुश तरीके से जारी हैं।
   
ऑस्ट्रेलिया सरकार ने इन घटनाओं के बारे में भारत को एक दस्तावेज सौंपा है जिसमें खुलासा किया गया है कि हमलावरों में से करीब आधे किशोर हैं। भारत के दबाव के चलते ऑस्ट्रेलिया ने अपने देश में भारतीयों पर हमले की घटनाओं के व्यापक अध्ययन के लिए एक उच्च मंत्रिमंडल स्तरीय कार्य समूह का गठन भी किया है। इस उच्च स्तरीय समूह की पहली बैठक इस सप्ताह के अंत में होने वाली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑस्ट्रेलिया में चार भारतीयों पर हमला