अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रंजन जदयू में शामिल

लोजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रंजन यादव के जदयू में मिलन समारोह में रलमंत्री लालू प्रसाद और उर्वरक मंत्री रामविलास पासवान वक्ताओं के खास निशाने पर रहे। यहां तक वक्ताओं ने दोनों को लोकतंत्र के लिए खतरा भी बताया और उनसे व उनके ‘परिवारवाद’ से सावधान रहने की नसीहत दी। अब तक जदयू के समारोहों में लालू प्रसाद ही निशाने पर होते थे, लेकिन यादव जागरण मंच के तत्वावधान में आयोजित इस कार्यक्रम में रामविलास पासवान पर वक्ताओं की नाराजगी अधिक थी। उन्होंने लालू-पासवान गठबंधन को स्वार्थी मेल और जनता की आंखों में धूल झोंकने वाला बताया। रंजन यादव ने तो लालू पर यादवों को अनपढ़ रखने का आरोप तक लगाया।ड्ढr ड्ढr समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विकास कार्यो को लोकसभा चुनाव का मुद्दा बनाने के लिए सूबे की जनता का आभार व्यक्त किया तो जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव परिवारवाद और वंशवाद को बढ़ावा देने के लिए लालू-पासवान दोनों पर जमकर बरसे। मुख्यमंत्री ने वहां मौजूद लोगों से परिवर्तन में सक्रिय भूमिका निभाने की अपील की और कहा जदयू में हर किसी के लिए दरवाजा खुला है। उन्होंने राजधर्म निभाने के अपने वायदे को दोहराया। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने कहा कि जदयू पार्टी नहीं परिवार है, जहां सब मिलकर रहते हैं। समारोह को शिवानंद तिवारी, पूर्व मुख्यमंत्री रामसुन्दर दास, महेन्द्र सहनी, मोनाजिर हसन, ज्ञानेन्द्र सिंह ज्ञानू, विद्यासागर निषाद ने भी संबोधित किया। मंच संचालन धर्मेन्द्र प्रसाद ने किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रंजन जदयू में शामिल