अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोहल्लेवालों की दिलेरी से बचा प्लाइवुड व्यापारी

नाका में मारुति वैन सवार बदमाशों ने पैदल गौड़िया मठ मंदिर जा रहे प्लाईवुड व्यवसायी अजय गुप्ता (50) को अगवा करने की कोशिश की। बदमाश अपने मकसद में कामयाब भी हो जाते पर, पास ही रहने वाले शमशाद व उनकी बहन शहनवाज ने परिवार की अन्य महिलाओं के साथ बदमाशों से मोर्चा लिया। बौखलाए बदमाशों ने फायरिंग कर दी जिससे शमशाद, शहनाज व उनकी दादी आमरा बानो (76) घायल हो गईं और बदमाश भाग निकले। लहूलुहान भाई-बहन को ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया। वैन पर मोपेड की नंबर प्लेट लगी थी। पुलिस की पाँच टीमें मामले की जाँच कर रही हैं।ड्ढr घटना रविवार सुबह आठ बजे हुई। अजय ऐशबाग रोड स्थित ‘शकुन्तलम’ नाम की इमारत में रहते हैं। उनकी ऐशबाग, मिल एरिया (तालकटोरा) में दो प्लाईवुड फैक्ट्री हैं। अजय के मुताबिक रोाना की तरह वह रविवार सुबह आठ बजे घर से पैदल मंदिर जा रहे थे। मोतीनगर रोड पर मुड़ते ही वहाँ खड़ा एक लंबा व्यक्ित उन्हें देखकर मंदिर की ओर दौड़ा। कुछ दूर आगे रहीमउल्ला बिल्डिंग के सामने नीले रंग की मारुति वैन खड़ी थी। अजय को लगा कि वह चालक है और वैन मालिक को देखकर इस तरह भागा है। कुछ देर में वह वैन के पास पहुँच गए। तभी पाँच-छह बदमाशों ने उन्हें दबोच लिया और वैन में धकेल दिया। भागकर गया लंबा बदमाश चालक सीट पर बैठा था। दो बदमाश असलहे लिए थे। शोर सुनकर रहीमुल्ला बिल्डिंग निवासी कपड़ा व्यापारी शमशाद (26),बहन शहनाज (22), दादी, माँ शकीला, चाची सीमा बाहर आए और बदमाशों मोर्चा लेने लगे। हाथापाई के दौरान अजय बदमाशों के चंगुल से छूट गए और दौड॥कर मंदिर के भीतर चले गए। खुद को घिरता देख एक बदमाश ने गोली चला दी और मोतीनगर की ओर भाग निकले। गोली लगने से शमशाद व शहनाज लहूलुहान हो गए। पुलिस के मुताबिक गोली शमशाद की कनपटी के पास से रगड़ खाती हुई गुजर गई। बगल में खड़ी शहनाज के चेहरे पर र्छे लगे, जबकि दादी को मामूली चोट ही आई।ड्ढr सूचना मिलते ही एसएसपी कानून व व्यवस्था रघुबीर लाल सहित कई अफसर मौके पर पहुँचे। पुलिस ने संदेह के आधार पर चार लोगों को हिरासत में लिया है। इसमें एक अजय का पूर्व कर्मचारी भी है। अजय ने मामले में किसी भी रंजिश से इनकार किया है। बदमाशों की तलाश के लिए हरदोई, उन्नाव व सीतापुर पुलिस की भी मदद ली जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मोहल्लेवालों की दिलेरी से बचा प्लाइवुड व्यापारी