DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'आतंकी फजलुल्लाह के लिए मां का हुक्म कुछ नहीं'

'आतंकी फजलुल्लाह के लिए मां का हुक्म कुछ नहीं'

पाकिस्तान में तहरीके तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के स्वात प्रमुख मौलाना फजलुल्लाह की मां के अनुसार उसका बेटा उसके कहने पर आत्मसमर्पण नहीं करेगा, उसके लिए शरिया सबकुछ है।

सुरक्षा बलों ने फजलुल्लाह की मां आमना बीबी को मिंगोरा में मीडिया के सामने पेश किया। आमना बीबी ने कहा कि उसका बेटा आखिरी बार रमजान में उससे मिला था और अब उसे अपने बेटे के ठिकाने के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

इससे पहले स्वयं फजलुल्लाह यह दावा कर चुका है कि वह अफगानिस्ताग भाग चुका है और वहां पूरी तरह से सुरिक्षत है। हालांकि उसके इस दावे की पुष्टि नहीं की जा सकी थी। आमना बीबी ने कहा कि स्वात में सैन्य अभियान शुरू होने के बाद वह परिवार समेत कुछ समय के लिए मलाम जब्बा चली गई थी और रमजान में फजलुल्लाह उनसे मिलने वहीं आया था। आमना बीबी ने कहा कि उस समय वह बीमार थी, इसलिए उसकी फजलुल्लाह से कोई बात नहीं हो पाई।

आमना बीबी ने कहा कि उसे नहीं लगता कि फजलुल्लाह उसके कहने पर सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण करेगा। उसने कहा कि यदि मैं उससे आत्मसमर्पण करने को कहूंगी तो वह मेरा यह आदेश नहीं मानेगा। मुझे विश्वास है कि वह कहेगा कि जब तक शरिया लागू नहीं होता तब तक मैं हथियार नहीं डालूंगा।

फजलुल्लाह की मां ने कहा कि वह कई बार अपने बेटे को आतंकवाद छोड़ने को कह चुकी है। उसने कहा कि जब कई साल पहले फजलुल्लाह ने रेडियो पर सरकार के खिलाफ बोला था तब मैंने उसे ऐसा करने से रोकने की कोशिश की थी।

आमना बीबी ने माना कि उसके बेटे के नेतृत्व में तालिबान ने स्वात घाटी में क्रूरता और अत्याचार किया, लेकिन उसने इसके लिए सुरक्षा बलों को भी दोषी ठहराया। उसने कहा कि दोनों पक्षों ने गलत किया और अब यह हिंसा रुकनी चाहिए। अब शांति होनी चाहिए।

इस बीच फजलुल्लाह के पूर्व शिक्षक मौलाना वलीउल्लाह ने कहा कि शरिया कानून लागू करना सही है, लेकिन इसके लिए आतंकवादियों ने जो तरीका अपनाया है वह गलत है। कुछ महीने पहले सुरक्षा बलों के सामने आत्मसमर्पण करने वाले वलीउल्लाह ने कहा कि फिदाईन हमले गैरइस्लामी हैं और उसे नहीं लगता कि स्वात में आत्मघाती हमलों में फजलुल्लाह का हाथ है। उसने कहा कि 21 साल पहले जब उसने फजलुल्लाह को पढ़ाया था उस समय उसने लड़कियों की शिक्षा का विरोध नहीं किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'आतंकी फजलुल्लाह के लिए मां का हुक्म कुछ नहीं'