अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजरंग

इ तो ट्रेलर है..इलेक्शन पर बन रही पिक्चर जल्द रीलिज होनेवाली है। अभी तो ट्रेलर चल रहा है। देश की सबसे पुरानी और डेमोक्रेटिक पार्टी ने अभी अपने कैंडिडेट को टिकट दिया नहीं है। इसकी तैयारी कर ही रही है, लेकिन देखिये इनके झंडबरदारों को, कैसे-कैसे तमाशे कर रहे हैं। दिल्ली से आये लीडरान के सामने तो एसे करतब दिखाते हैं, मानो इ इसके लिए ही बने हों। बेचार दिल्ली के नेता इनके खेल-तमाशे को देखकर भौंचक हो जाते हैं। इसको टिकट दो, उसका काटो, उसको जोड़ो.. यह सब एसे चलता है मानो इसकी ट्रेनिंग दी गयी है। पंजा छाप कंपनी के पुराने योद्धाओं का कहना है- इ तो ट्रेलर है। अभी तो पूरी फिलिम बाकी है। अभी तो टिकट बंटा नहीं है। जब टिकट बंटने के बाद कटेगा, तब पूरी फिल्म रीलिज हो जायेगी। झंडा, पताका के साथ-साथ डंडा-लाठी भी ताकत के साथ सामने लाया जायेगा। उस समय फिल्म का हीरो कौन और विलेन कौन होगा, यह फिल्म के डाइरक्टर और प्रोडय़ूसर को भी नहीं पता चलेगा। चलिये, आपको तो पांच साल में एकाध बार ही एसी हिट फिल्म देखने का मौका मिलेगा। फिल्म की पटकथा अभी लिखी जा रही है। डायलाग भी तैयार हो रहे हैं। रीलिज होते ही हम फिर मिलेंगे। तब तक जय रामजी की ..।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजरंग