DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वर्ष 2010 में प्रमुख शक्ति बनकर उभरेगा रूस: स्ट्रैटफोर

अमेरिका के एक खुफिया विचारक मंडल ने कहा है कि इराक और अफगानिस्तान में युद्ध में अमेरिका के उलझने से रूस को पूर्व सोवियत संघ के देशों में अपना प्रभाव बढ़ाने का मौका मिल गया है और इस साल इसके और जोर पकड़ने पर मास्को एक प्रमुख शक्ति के रूप में फिर से उभर सकता है।

वैश्विक खुफिया कम्पनी स्ट्रैटफोर ने वर्ष 2010 के अपने वार्षिक अनुमान पत्र में कहा है रूस के लिए साल 2010 और मजबूत होने का साल होगा। संगठन ने कहा आगामी वर्ष में रूस, युक्रेन, कजाखस्तान, बेलारूस, आरमेनिया और अजरबैजान पर पश्चिमी देशों तथा तुर्की के प्रभाव को कम करके पूर्व सोवियत संघ के ज्यादातर इलाकों में एक राजनीतिक संघ के पुनर्गठन के लिए आधार तैयार करने की कोशिश करेगा।

स्ट्रैटफोर ने कहा कि हालांकि वह परियोजना वर्ष 2010 में पूरी नहीं होगी लेकिन साल के अंत तक यह लगभग तय हो जाएगा कि पूर्व सोवियत संघ रूस का प्रभाव क्षेत्र बन गया है और अगर वह इसमें पूरी तरह कामयाब हो गया तो इसमें बदलाव की कोई भी कोशिश व्यर्थ होगी।

वर्ष 1990 के दशक में रूस के कमजोर होने से अमेरिका काफी आराम की स्थिति में आ गया था और वर्ष 2000 के आसपास अफगानिस्तान और इराक में हुए युद्ध में अमेरिकी सैन्य क्षमता का खासा इस्तेमाल हो चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वर्ष 2010 में प्रमुख शक्ति बनकर उभरेगा रूस: स्ट्रैटफोर