अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंधेर में ही तीर

श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर मंगलवार को हुए हमले को लेकर पाक सरकार अब तक अंधेर में ही तीर चला रही। उसका एक मात्र उद्देश्य अपनी नाकामी छिपाने के लिए भारत पर तोहमत लगाना है। पीएम गिलानी ने एफबीआइ के प्रमुख रॉबर्ट मिलर को बताया कि लाहौर हमले में बाहरी शक्ित का हाथ है। उन्होंने भारत पर असहयोग का आरोप भी लगाया। हालांकि बाद में भारतीय गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पाक के सभी आरोपों को गलत बतया और कहा-पड़ोसी बकवास कर रहा है। उधर, श्रीलंका की पूरी टीम सकुशल अपने देश पहुंच गयी है। लेकिन खिलाड़ियों के चेहर पर अभी भी खौफ का साया है।ड्ढr लाहौर कांड में 60 संदिग्धों की गिरफ्तारी के बावजूद जांच एजेंसियों को हमले को अंजाम देने वालों के बार में ठोस सबूत नहीं मिला है। सरकार ने हमलावरों का सुराग देनेवालों को एक करोड़ रुपये इनाम देन का एलान किया है। लाहौर के गुलबर्ग क्षेत्र में विशेष जांच दल द्वारा छात्रावासों और गेस्ट हाउस में मारे गए छापों में 60 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। सरकार ने मंगलवार को विशेष जांच दल का गठन किया था। इस बीच श्रीलंका के विदेश मंत्री रोहित बोगोल्लागामा बुधवार को इस्लामाबाद पहुंचे। पुलिस को घटनास्थल से एक सेलफोन मिला है। जिसके आधार पर हमलावरों और उनसे जुड़े लोगों की धरपकड़ के लिए सघन तलाशी अभियान छेड़ा गया है। जांच में प्रगति न होने से बौखलाये जांचकर्ताओं ने मात्र शक के आधार पर कई को हिरासत में ले लिया है। एजेंसिया

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अंधेर में ही तीर