class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला लेक्चरर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

जनकपुरी इलाके में एक महिला लेक्चरर ने गुरुवार की शाम फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतका की पहचान मीनू (33) के रूप में की गई है। वह कमला नेहरु कॉलेज में बतौर लेक्चरर कार्यरत थीं। परिजनों ने मीनू के पति पर उसे मारने-पीटने व प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने महिला के पति के खिलाफ इस बाबत मामला दर्ज कर लिया है। महिला के पति दिलबाग सिंह रामजास कॉलेज में सेक्शन आफिसर के पद पर कार्यरत हैं। फिलहाल पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है।

पुलिस के अनुसार जनकपुरी सी-ब्लॉक में रहने वाली मीनू की शादी अप्रैल 2009 में दिलबाग सिंह के साथ हुई थी। उसके पिता रेलवे से रिटायर्ड अधिकारी हैं। शादी के समय उन्होंने लाखों रुपये खर्च किए थे। दिलबाग सिंह रामजास कॉलेज के स्टॉफ क्वार्टर में ही रहते हैं। शादी के बाद मीनू भी वही रहती थीं।

उसके परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही दहेज के लिए मीनू के साथ दिलभाग सिंह मारपीट करते थे। दोनों के बीच अकसर झगड़ा होता था। कई बार मीनू नाराज होकर अपने मायके भी लौट आई थी।

गत नवम्बर माह में भी उसके साथ मारपीट की गई थी। इससे आहत होकर वह 28 नवम्बर को अपने मायके आ गई थी। तब से वह अपने मायके में ही ठहरी हुई थी। वह काफी परेशान रहती थी।

गुरुवार की शाम मीनू ने मायके में ही पंखे से साड़ी का फंदा लगाकर फांसी लगा ली। उसके परिजनों ने जब उसे देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल भेज दिया। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

मीनू के परिजनों ने एसडीएम के समक्ष दिए बयान में दिलबाग सिंह पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। इसके आधार पर जनकपुरी पुलिस ने धारा 498ए/304बी के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महिला लेक्चरर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या