class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अथॉरिटी का जेई रिश्वत लेते गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते ने गुरुवार को अथॉरिटी के एक जूनियर इंजीनियर को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इंजीनियर को मेरठ स्थित भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते के स्पेशल कोर्ट में पेश किया जाएगा। फिलहाल उसको गिरफ्तार कर कोतवाली सेक्टर-20 के हवाले कर दिया है।

अथॉरिटी के प्रवर्तन दल द्वितीय में तैनात राजेंद्र सिंह पर रिश्वत लेने की शिकायत दो दिन पहले भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते को मिली थी। बागपत निवासी बृजपाल सिंह व उसका पुत्र सुनील सेक्टर-82 में फल की दुकान लगाते हैं। दुकान लगाने के लिए जेई राजेंद्र दोनों से तीन हजार रुपए मांगता था। इसकी शिकायत बृजपाल ने भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते से 29 दिसंबर को की।

तीस दिसंबर को दस्ते की एक टीम ने नोएडा पहुंचकर ऑफिस व दुकान का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। गुरुवार को डीएसपी बी.आर.वर्मा के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम आई और पहले डीएम दीपक अग्रवाल से मुलाकात कर सभी बातों से अवगत कराया।

भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते के साथ बीएसए धर्मवीर सिंह व जीएम (डीआईसी) एन.के. सिंह गवाह के रूप में साथ गए। गुरुवार लगभग दस बजे भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते ने राजेंद्र सिंह को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उसे कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस के हवाले कर दिया।

भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते के इंस्पेक्टर एस. एन. यादव की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है। बताया जाता है कि दस्ते को अथॉरिटी के कई अधिकारी के खिलाफ शिकायतें मिली है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अथॉरिटी का जेई रिश्वत लेते गिरफ्तार