DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रेमगिरी बने जूना अखाड़ा के महामंत्री

नागा संन्यासियों के प्रमुख अखाड़े श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े में एक भव्य समारोह में चौदह मणि के मंत्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज को अखाड़े की कार्यकारिणी ने सर्व सम्मति से महामंत्री पद पर मनोनीत किया गया। जूना अखाड़े के वरिष्ठ पदाधिकारियों सभापति महंत सोहन गिरि, महंत भवगतपुरी, महंत उमा शंकर भारती, महंत हरिगिरि, महंत प्रेमपुरी, महंत विद्यानंद सरस्वती, ने एक बैठक में रिक्त चले आ रहे अखाड़े के महामंत्री पद पर महंत प्रेम गिरि महाराज की नियुक्ति का प्रस्ताव पारित किया। महंत उमाशंकर भारती ने रमते पंचों और अखाड़े के सैकड़ों साधुओं की उपस्थिति में मायादेवी मंदिर परिसर स्थित श्री दत्तात्रेय की चरण पादुका पर शंख घ्‍वनि और मंत्रोच्चरण के मध्य महंत प्रेमगिरि को महामंत्री बनाए जाने की औपचारिक घोषणा की।

महंत प्रेमगिरि को जूना अखाड़े की समस्त गतिविधियां, कुंभ मेले की व्यवस्थाएं और शासन-प्रशासन से तालमेल बनाकर आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने का दायित्व सौंपा गया है। महंत प्रेमगिरि अनुभवी और वरिष्ठ पदाधिकारी हैं। पिछले कई कुंभ पर्वो पर अपनी प्रशासनिक क्षमता भी सिद्ध कर चुके हैं। महामंत्री पद पर नियुक्ति के पश्चात वह अपनी क्षमताओं को और अधिक प्रभावशाली ढंग से प्रयोग कर सकेंगे। इस अवसर पर महंत पूर्णगिरि, महंत हरदेव गिरि, महंत विजय गिरि, थानापति महंत मनोज गिरि, महंत राजूबाबा, महंत राजेश गिरि, महंत नवीन गिरि, महंत सुरेश गिरि, महंत देवानंद सरस्वती, महंत गोविंदानंद, महंत अच्युतानंद उपस्थित थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रेमगिरी बने जूना अखाड़ा के महामंत्री