class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाहन चोर गिरोह के दो सदस्य पकड़े

होंडा सिटी, एस्टीम व वर्ना जैसी लग्जरी गाड़ियां चोरी करने वाले एक गिरोह का पश्चिम विहार पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पुलिस ने शरीक व शफीक नामक दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 9 गाड़ियां बरामद कर पुलिस ने वाहन चोरी की 9 वारदातों को सुलझाने का दावा किया है।

पुलिस उपायुक्त शरद अग्रवाल के अनुसार 16 दिसम्बर को पश्चिम विहार से एक एस्टीम कार चोरी होने की शिकायत मिली थी। इस बाबत मामला दर्ज कर एसीपी पंजाबी बाग सुरेन्द्र कपूर की देखरेख में पुलिस टीम ने छानबीन शुरू की।

इस दौरान पुलिस टीम को सूचना मिली कि कार चोरी करने वाला गिरोह बालाजी एक्शन अस्पताल के पास से जाएगा। सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने अस्पताल के पास वाहनों की जांच करना शुरू किया। कुछ देर बाद वहां बिना नम्बर प्लेट की एस्टीम कार के साथ शरीक वहां आया और पुलिस ने उसे धर दबोचा।

पूछताछ में शरीक ने पुलिस को बताया कि वह अपने साथियों शफीक व चांद मोहम्मद के साथ गाड़ियां चोरी करता था। शरीक के साथियों व चोरी की अन्य गाड़ियों को तलाशने के लिए पुलिस की टीम ने बिजनौर में छापेमारी की। वहां से पुलिस को 4 गाड़ियां बरामद हुई।

पुलिस ने शफीक को भी गिरफ्तार कर उसके पास से अन्य गाड़ियां बरामद की हैं। पूछताछ में शरीक ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन की ससुराल पश्चिम विहार में है। वह अकसर अपनी बहन के घर आता था। उसे स्मैक का नशा करने की लत थी और नशे के लिए उसे रुपये की जरूरत होती थी। उसकी मुलाकात वाहन चोरी करने वाले शफीक नामक युवक से हुई। उसने उसकी मुलाकात चांद मोहम्मद से कराई।

ये लोग शरीक की बहन के घर पर ठहरकर इलाके की रेकी करते थे और रात होने पर गाड़ी चोरी कर बिजनौर बेचने के लिए निकल जाते थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वाहन चोर गिरोह के दो सदस्य पकड़े