class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राठौर प्रकरण पर खास पेशकश लाफिंग बुड्ढा

राठौर प्रकरण पर खास पेशकश लाफिंग बुड्ढा

लाफिंग बुड्ढा बोले तो अपना राठौर भाई एक्स डीजीपी, बेहद खुशमिजाज, जिंदादिल और रंगीला बंदा। रुचिका को छेड़ने के मामले में छह माह की सजा मिली पर बंदे के माथे पर शिकन तक नहीं। कोर्ट से ऐसे निकला जैसे को शेर निकलता हो मांद से.. चौड़ा होके। क्या स्माइल थी चेहरे पर..ठीक वैसी जैसी जनपथ की पटरियों पर बिकने वाले लाफिंग बुद्धा की स्माइल है। मैंने तो उसी दिन ठान ली कि घर से बला टालनी हो तो राठौर भाई की वही स्माइल वाली फोटू अपने दरवज्जो पर चिपकाऊंगा।

मोहल्ला फंटूसी करने वाले दिनों में कई लड़कियों से सैटिंग कर छोड़ चुके सीनियर लौंडों ने कहा था, ‘भाई लड़की को हमेशा इमोशन से डील करियो, एक बार भड़क कर थाने चली गई तो पुलिस वाले तुझे गिरा-गिरा कर ठोकेंगे।’ पर अब तो अपना गुरु है राठौर भाई। क्या रुचिका, क्या पुलिस, क्या सीबीआई क्या सरकार सा..कोई भी बाल बांका नहीं कर पाया। रुचिका को छेड़ा तो उसने खुद ही जान दे दी। बाप ने कंप्लेंट करी तो घर से बेघर हो गया। भाई बोला तो थाने में खुद बैठ कर पिटवाया। आज से अपना रोल मॉडल है राठौर.. छेड़ा और छूट भी गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राठौर प्रकरण पर खास पेशकश लाफिंग बुड्ढा