DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दवा चोर गैंग का पर्दाफाश, छह गिरफ्तार

अपराध शाखा (आईएससी) अधिकारियों ने राजधानी के लगभग सभी सरकारी अस्पतालों से करीब दो करोड़ रुपये की दवाईयां चोरी कर चुके एक गैंग का पर्दाफाश किया है। यह गैंग करीब पांच साल से इस धंधे में लिप्त है।

इस सिलसिले में छह लोग गिरफ्तार किए गए हैं। इनमें दो रिसीवर भी शामिल हैं। इनकी निशानदेही पर करीब तीन लाख की दवाईयां तथा दो लाख 90 हजार रुपये नगद बरामद किए गए हैं।

अभियुक्तों के नाम दीपक कुमार, महेंद्र, सतेंद्र, विनोद उर्फ बबलू, अमरनाथ तथा हरीश जोशी हैं। दीपक कुमार व महेंद्र सफदरजंग अस्पताल में कार्यरत हैं जबकि अमरनाथ अस्पताल में सीपीडब्ल्यूडी के पंप पर आपरेटर हैं।

यह गैंग एम्स, सफदरजंग, दीनदयाल उपाध्याय, बाबा भीमराव अम्बेडकर, लेडी हार्डिग मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल तथा गुरु गोविंद सिंह अस्पताल टैगोर गार्डन से मंहगी दवाईयां चोरी कर दिल्ली के भागीरथी प्लैस तथा अन्य राज्यों में सप्लाई कर चुका है।

इनकी प्रॉपर्टी को भी अटैच किए जाने की कार्रवाई की जाएगी। यह गिरोह इस साल सात अस्पतालों में चोरी की वारदात कर चुका है। यह जानकारी अपराध शाखा के अतिरिक्त आयुक्त नीरज ठाकुर ने संवाददाता सम्मेलन में दी।

उन्होंने बताया कि हाल ही में रोहिणी तथा रघुबीर नगर स्थित सरकारी अस्पताल से लाखों रुपये की दवाईयां चोरी होने का मामला सामने आया था। मामले की तफ्तीश इंटरस्टेट सेल के एसीपी राजेद्र बक्शी व निरीक्षक अशोक शर्मा कर रहे थे।

इस दौरान 27 दिसम्बर को सूचना मिली कि दीपक कुमार अपने एक साथी के साथ सफदरजंग फ्लाईओवर के पास किसी को दवाईयों की खेप देने आएगा। मुखबिर के इशारे पर पुलिस टीम ने दीपक व उसके तीन साथियों को उसी समय दबोच लिया। बाद में अमरनाथ व हरीश जोशी को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ करने पर दीपक ने पुलिस को बताया कि वह वर्ष 2004 से सरकारी अस्पतालों से दवाईयां चोरी कर भागीरथी प्लैस में हरीश जोशी को बेचते थे। हरीश जोशी पटपड़गंज कानूनगों अपार्टमेंट में रहता है। दीपक व उसके साथी छुट्टी से एक दिन पहले अस्पताल के स्टोर रुम पहुंचते और रेकी कर छुट्टी के दिन वारदात को अंजाम देते थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दवा चोर गैंग का पर्दाफाश, छह गिरफ्तार