class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोल इंडिया अब देगा गरीब बच्चों को स्कॉलरशिप और नौकरी

कोल इंडिया अब देगा गरीब बच्चों को स्कॉलरशिप और नौकरी

कोल इंडिया अब हर साल गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले 100 गरीब छात्रों को पढ़ने के लिए विशेष छात्रवृत्ति देगी और इस छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत पढ़ने वाले छात्रों को पढ़ाई पूरी होने के बाद मैनेजमेंट ट्रेनी के रूप में नौकरी भी ऑफर करेगी।

इसके अतिरिक्त प्रत्येक वर्ष 25 छात्रवृत्तियां उन छात्रों को भी दिये जाने की योजना है जिनकी जमीन कोल इंडिया ने लेकर उन्हें विस्थापित कर दिया था तथा उनके परिजनों को नौकरी भी नही मिली थी।

केन्द्रीय कोयला राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीप्रकाश जायसवाल ने बुधवार को दिल्ली से टेलीफोन पर बताया कि कोल इंडिया की बीपीएल छात्रवृत्ति योजना अगले शैक्षणिक सत्र 2010-2011 से आरंभ हो रही है। इसके अंतर्गत प्रत्येक वर्ष गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले 100 विद्यार्थियों को सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों, सरकारी मेडिकल कालेजों, आईआईटी तथा एनआईटी में डिग्री कोर्स करने के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाएंगी। इस स्कॉलरशिप में छात्रों का पढ़ाई का खर्च तो शामिल होगा ही साथ ही साथ हॉस्टल का खर्चा भी दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि बीपीएल छात्रवृत्ति योजना के तहत मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले इन छात्रों को पढ़ाई पूरा करने के बाद कोल इंडिया इन्हें मैनेजमेंट ट्रेनी के अधिकारी संवर्ग में ज्वाइन करने का विकल्प भी देगा। अगर यह छात्र चाहें तो पढ़ाई पूरी करने के कोल इंडिया में नौकरी भी कर सकते हैं।

जायसवाल से जब पूछा गया कि गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले इन छात्रों का चयन किस आधार पर किया जाएगा तो उन्होंने बताया कि इसके लिए ऑल इंडिया लेवल पर सभी प्रमुख समाचार पत्रों में एक विज्ञापन भी दिया जाएगा और उसके बाद एक पारदर्शी विधि द्वारा देश भर से 100 छात्र-छात्राओं का चयन किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त प्रत्येक वर्ष 25 उन छात्रों को छात्रवृत्ति दिये जाने की योजना है, जिनके परिवारों की जमीने कोल इंडिया ने अपनी कोयला खदानों के लिये ले ली है और उन्हें विस्थापित कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह विशेष छात्रवृत्तियां उन्हीं विस्थापित परिवारों के बच्चों को दी जाएंगी जिन्हें विस्थापित किए जाने के बाद कोल इंडिया में नौकरी नही मिली है।

यह छात्रवृत्ति भी सरकारी मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों को ही दी जाएगी और ग्रेजुएशन स्तर की पढ़ाई करने के बाद इन्हें भी कोल इंडिया में मैनेजमेंट ट्रेनी स्तर की नौकरी ऑफर की जाएगी। विस्थापित परिवारों के छात्रों की छात्रवत्ति में भी पढ़ाई के साथ साथ हास्टल का खर्चा शामिल होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोल इंडिया अब देगा गरीब बच्चों को स्कॉलरशिप और नौकरी