अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस नहीं पचा पा रही है शशि थरूर की टिरबाजी

कांग्रेस नहीं पचा पा रही है शशि थरूर की टिरबाजी

राजनयिक से राजनीतिक नेता बने विदेश राज्य मंत्री शशि थरूर की टि्वटर पर की जा रही बयानबाजी कांग्रेस को भा नहीं रही है तथा उनकी टिरबाजी उनके के लिए मुश्किलें बढा़ सकती है।

वीजा प्रक्रिया को लेकर थरूर की टिप्पणी से पार्टी में नाराजगी है और विदेश मंत्री एस एम कृष्णा के इस बयान से पूरी तरह सहमत है कि इस तरह के मुद्दों पर सार्वजनिक रूप से बयान नहीं देना चाहिए। इससे पहले पार्टी ने थरूर के विमान के इकोनामी क्लास को कैटल क्लास बताए जाने पर कडी़ नाराजगी जताई थी।

थरूर के वीजा संबंधी बयान के बारे में कांग्रेस महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि पार्टी पहले ही विदेश राज्य के मंत्री के बयान को खारिज कर चुकी है। उनके ताजा बयान पर कृष्णा अपनी प्रतिक्रिया दे चुके हैं और पार्टी को इससे आगे कुछ नहीं कहना है।

सूत्रों के अनुसार टिर पर थरूर की इस तरह की टिप्पणियों से पार्टी में नाराजगी है तथा उसे यह कतई रास नहीं आ रहा है। थरूर का यह शौक उनके लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है। टिर पर उनके बयानों की ओर ध्यान दिलाए जाने पर पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि इस तरह कि फिजूल बातों पर पार्टी रोज प्रतिक्रिया नहीं देती। उन्होंने कहा कि कृष्णा ने विदेश राज्य मंत्री को सही संदेश दे दिया है। कृष्णा ने थरूर की टिप्पणी के संबंध में कहा था कि यह ऐसे मुद्दे नहीं हैं, जिन पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी की जाए। इन पर मंत्रालय के दायरे में ही विचार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार संचालन एक गंभीर काम है। यह एक निश्चित तौर तरीके से ही चल सकता है।

इस बीच पार्टी के नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने थरूर को सीमा नहीं लांघने की सलाह दी है। चतुर्वेदी ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने विचार रखने की स्वतंत्रता है लेकिन सरकार चलाने के कुछ नियम कानून हैं और किसी को भी अपनी सीमा में रहना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस नहीं पचा पा रही है शशि थरूर की टिरबाजी