class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वुड्स प्रकरण ने डुबोए प्रायोजकों के 12 अरब डॉलर

वुड्स प्रकरण ने डुबोए प्रायोजकों के 12 अरब डॉलर

एक सर्वे के मुताबिक सुपरस्टार गोल्फर टाइगर वुड्स के विवाहेत्तर संबंधों की खबरें आने के बाद से उनके प्रायोजकों ने 12 अरब डॉलर गंवाए हैं।

डेविस (यूसी डेविस) के कैलीफोर्निया विश्वविद्यालय के नए अध्ययन में 27 नवंबर को वुड्स की कार दुर्घटना और 17 दिसंबर को इस शीर्ष गोल्फर के खेल से अनिश्चितकाल के लिए हटने की घोषणा के बीच 13 ट्रेडिंग दिनों में स्टॉक मार्केट का अध्ययन किया गया है।

यूसी डेविस के अर्थशास्त्र के दो प्रोफेसरों विक्टर स्टेंगो और क्रिस्टोफर निटेल ने वुड्स के आठ प्रायोजकों एकसेंचर, एटीएंडटी, टाइगर वुड्स पीजीए टूर गोल्फ (इलेक्ट्रॉनिक आटर्स), जिलेट (प्राक्टर एंड गैम्बल), नाइकी, गैटोराडे (पेप्सीको), टीएलसी लेजर आई सेंटर्स और गोल्फ डाइजेस्ट (कोंडे नास्ट) का अध्ययन किया है।

स्टेंगो ने कहा, शेयरधारकों को हुआ नुकसान टाइगर वुड्स को प्रायोजन कई दशकों में मिलने वाली राशि से अधिक हो सकता है। स्टेंगो में मुताबिक सेक्स स्कैंडल से पहले एक वर्ष में प्रायोजन से वुड्स की कमाई 10 लाख डॉलर थी जो किसी भी अन्य एथलीट से अधिक थी।

ये दोनों अर्थशास्त्री इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि इस स्कैंडल के बाद प्रायोजक कंपनियों में शेयरधारकों की पूंजी में 2.3 प्रतिशत या लगभग 12 अरब डॉलर की कमी आई है। शोधकर्ताओं ने कहा, नुकसान का स्वरूप स्टॉक मूल्यों में होने वाले रोजमर्रा के उतार चढ़ाव से संबंधित नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वुड्स प्रकरण ने डुबोए प्रायोजकों के 12 अरब डॉलर