class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार वालों को रास आ रही है मेट्रो

कार वालों को पेट्रोल फूंकने और जाम में गाड़ी खड़ी कर इंतजार करने की बजाय मेट्रो में सवार हो दिल्ली का सफर करना ज्यादा पसंद आ रहा है। मेट्रो स्टेशनों की पार्किंग को गुलजार कर कार वाले कुछ यही जता रहे हैं। नोएडा में मेट्रो के अंतिम स्टेशन सिटी सेंटर की पार्किग में कई समय तो ऐसा होता है कि जगह खोजने में वक्त लग जाता है। इससे उलट बाइक वाले मेट्रो को औसतन कम अपना रहे हैं।

डीएमआरसी के साथ हुए साल भर के करार के बाद शुभारंभ के साथ ही नोएडा में मेट्रो स्टेशनों के पास बनी पार्किंग गुलजार नजर आने लगी। अब रोजाना ऑफिस जाने वालों के लिए मेट्रो पार्किंग फायदे का सौदा बनकर सामने आयी है। मेट्रो सेवा शुरू होने के डेढ़ महीने बाद आज की तारीख में पार्किंग वालों को विस्तार के लिए सोचना पड़ रहा है।

सिटी सेंटर मेट्रो पार्किंग के ठेकेदार की मानें तो फिलहाल कार के लिए जगह पर्याप्त हैं, लेकिन यहां की स्थिति ऐसा नहीं कहती। पार्किंग ठेकेदार तिवारी जी के अनुसार 450 कार के लिए जगह बनाई गई है और करीब तीन सौ चारपहिया वाहन रोजाना आते हैं।

तिवारी जी के अनुसार दोपहिए 1000 तक पार्किंग में लग सकते हैं, लेकिन इनकी संख्या भी 300 के आसपास अटक रही है। 10 घंटे के लिए कार पर 10 रुपए पार्किंग शुल्क लिया जाता है तो इतनी ही देर के लिए दोपहिए के 5 रुपए लिये जाते हैं। इसके अलावा दोपहिए की मासिक पार्किंग शुल्क 250 रुपए और कार की 500 रुपए है। ठेकेदार के अनुसार लोगों तक पार्किंग की पूरी जानकारी नहीं पहुंचने के कारण संभवत: बाइक वाले कम आ रहे हैं।

 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कार वालों को रास आ रही है मेट्रो